सितम्बर 2022 में रिलीज होने वाली फ़िल्म ‘ब्रह्मास्त्र’ पिछले काफी दिनों से सुर्खियों में हैं. दरअसल, सोशल मीडिया पर तरह-तरह के दावों के साथ इस फ़िल्म को बायकॉट करने के लिए कहा जा रहा है. इस दौरान, बीबीसी हिन्दी के एक कथित ट्वीट का स्क्रीनशॉट काफी शेयर किया जा रहा है. कथित ट्वीट के मुताबिक, पाकिस्तान में हाल में आयी भयंकर बाढ़ में मदद करने को बॉलीवुड आगे आया है. इसमें लिखा है कि फ़िल्म के प्रोड्यूसर करण जौहर ने 5 करोड़, ऐक्टर्स आलिया भट्ट और रणबीर कपूर ने 1-1 करोड़ रुपये दान किये. साथ ही इन्होंने फ़िल्म हिट होने पर 51 करोड़ देने का ऐलान किया है. आखिर में लिखा है कि इंसानियत और मानवता की मिसाल है बॉलीवुड.

ट्विटर हैन्डल ‘@CuteRashmika3’ ने ये स्क्रीनशॉट ट्वीट करते हुए कहा कि इन्होंने भारत में आयी बाढ़ के लिए कितना डोनेट किया है. और असम में आयी बाढ़ के लिए क्या दान किया? यूज़र ने #BoycottBramhastra #BoycottBollywood के साथ ट्वीट किया. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

और भी कई ट्विटर यूज़र्स ने ये स्क्रीनशॉट ‘ब्रह्मास्त्र’ फ़िल्म का विरोध करते हुए ट्वीट किया. ये स्क्रीनशॉट ट्विटर पर ‘#BoycottBrahmastra‘ के साथ ट्रेंड कर रहा है. (लिंक 1, लिंक 2, लिंक 3)

This slideshow requires JavaScript.

फ़ेसबुक पर ये स्क्रीनशॉट वायरल है. इंस्टाग्राम पर भी ये स्क्रीनशॉट पोस्ट किया गया है.

फ़ैक्ट-चेक

इस स्क्रीनशॉट को गौर से देखने पर हमें भाषा में कुछ गलतियां नज़र आयी जैसे पहला वाक्य अचानक से खत्म हो जाता है. जबकि वहां पूर्णविराम होना चाहिए. इसके अलावा, करोड़ और आलिया भट्ट शब्द के बीच में कोमा (,) के बाद स्पेस नहीं है. वहीं आखिरी लाइन में ‘और’ को ‘ओर’ लिखा है. मीडिया संगठनों की भाषा में इस तरह की चूक संदेहजनक है. हमने एक और बात नोटिस की कि बीबीसी हिन्दी ज़्यादातर बिना किसी ग्राफ़िक या वीडियो के सिर्फ़ टेक्स्ट ट्वीट नहीं करता है. जबकि इस स्क्रीनशॉट में सिर्फ टेक्स्ट है.

आगे, ऑल्ट न्यूज़ ने बीबीसी हिन्दी की टाइमलाइन चेक की. लेकिन हमें वायरल ट्वीट जैसा कोई ट्वीट नहीं मिला. हमने देखा कि बीबीसी हिन्दी ने इस फ़ेक ट्वीट के स्क्रीनशॉट की सच्चाई सामने रखते हुए 2 सितंबर 2022 को ट्वीट किया है. बीबीसी हिन्दी ने बताया कि ये एक फ़र्ज़ी ट्वीट का स्क्रीनशॉट है और उन्होंने ऐसी कोई ख़बर पब्लिश नहीं की है.

इसके अलावा, बीबीसी हिन्दी के ट्वीट्स को वायरल स्क्रीनशॉट से तुलना करने पर ये स्पष्ट हो जाता है कि स्क्रीनशॉट फ़ेक है:

  1. ट्वीट्स में टाइम और डेट के बीच एक डॉट (.) होता है. लेकिन वायरल स्क्रीनशॉट में दिख रहे ट्वीट में ऐसा कोई डॉट नहीं है.
  2. कथित ट्वीट एंड्रॉइड फ़ोन से किया गया दिख रहा है जबकि बीबीसी हिन्दी के ट्वीट्स ‘SocialFlow’, ‘Twitter Web App’ या ‘ट्विटर मीडिया स्टूडियो’ से किये जाते हैं.

ऑल्ट न्यूज़ को ऐसी कोई मीडिया रिपोर्ट नहीं मिली जिसमें इस बात की पुष्टि की गई हो कि ब्रह्मास्त्र फ़िल्म की टीम, पाकिस्तानी बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए डोनेट कर रही है.

ये कोई नई बात नहीं है जब बनावटी ट्वीट के स्क्रीनशॉट्स सोशल मीडिया पर असली मानकर शेयर किये जाते हो. ऑल्ट न्यूज़ पहले भी ऐसे कई फ़ेक ट्वीट्स के बारे में फ़ैक्ट-चेक रिपोर्ट पब्लिश कर चुका है जिसे आप यहां पर पढ़ सकते हैं.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged: