सोशल मीडिया पर एक तस्वीर काफ़ी शेयर की जा रही है. दावा है कि ये अयोध्या रेलवे स्टेशन के प्रस्तावित प्रोजेक्ट की तस्वीर है. ट्विटर यूज़र नायक महेश चौहान ने ये तस्वीर इसी दावे के साथ ट्वीट की. महेश ने ट्विटर बायो में खुद को RSS और बजरंग युवा संघ से जुड़ा बताया है. आर्टिकल लिखे जाने तक इस ट्वीट को 500 से ज़्यादा बार रीट्वीट किया जा चुका है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

फ़ेसबुक पेज ‘भगवा सेना’ ने भी ये तस्वीर इसी दावे के साथ पोस्ट की.

फ़ेसबुक और ट्विटर पर ये तस्वीर काफ़ी शेयर की गई है. व्हाट्सऐप पर भी इसे समान दावे वाले गुजराती मेसेज के साथ शेयर किया जा रहा है.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

आसान से गूगल रिवर्स इमेज सर्च से ऑल्ट न्यूज़ को ये तस्वीर कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में मिली. 17 फ़रवरी 2020 के लाइव हिंदुस्तान के आर्टिकल में ये तस्वीर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन प्रोजेक्ट की बताकर शेयर की गई थी. आर्टिकल के मुताबिक, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नवीनीकरण का काम किया जाएगा. और इसमें 6,500 करोड़ रुपये खर्च करने की बात भी की गई है. फ़ाइनेंशियल एक्सप्रेस के आर्टिकल में भी ये तस्वीर नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नवीनीकरण प्रोजेक्ट की बताकर पब्लिश की गई थी.

24 जून 2014 की डेली मेल की रिपोर्ट में भी ये तस्वीर पब्लिश की गई थी. आर्टिकल में ये तस्वीर शेयर करते हुए बताया गया था कि ये नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नवीनीकरण के लिए कंप्यूटर द्वारा बनाए गए प्रोजेक्ट की तस्वीर है. रिपोर्ट में बताया गया है कि अरूप कंसल्टेंसी को 86 हेक्टेयर के पुनर्विकास के लिए नियुक्त किया गया है जिसमें ये रेलवे स्टेशन भी शामिल है.

की-वर्ड्स सर्च करते हुए ऑल्ट न्यूज़ को ये तस्वीर भारतीय रेलवे की वेबसाइट पर मौजूद भारतीय रेलवे विज़न 2020 नाम के प्रोजेक्ट की फ़ाइल में मिली. इसे भारतीय रेल मंत्रालय द्वारा दिसम्बर 2009 में जारी किया गया था.

अरूप कंसल्टेंसी की वेबसाइट पर भी ये तस्वीर मौजूद है. वेबसाइट के मुताबिक, नई दिल्ली का रेलवे स्टेशन, रेल मंत्रालय के विश्व स्तरीय स्टेशन कार्यक्रम के अंतर्गत आने वाला पहला रेलवे स्टेशन है. अरुप, इस नवीनीकरण प्रोजेक्ट के लिए मास्टर प्लान और डिज़ाइन तैयार कर रहा है.

अयोध्या रेलवे स्टेशन के नवीनीकरण प्रोजेक्ट के दृश्य

इसके अलावा, भारतीय रेल मंत्रालय ने 5 अगस्त 2020 को अयोध्या रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास प्रोजेक्ट के बारे में एक वीडियो यूट्यूब पर अपलोड किया था. इसमें अयोध्या रेलवे स्टेशन के नवीनीकरण प्रोजेक्ट के दृश्य वायरल तस्वीर से काफ़ी अलग दिखते हैं.

यानी, नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास प्रोजेक्ट की तस्वीर हाल में सोशल मीडिया पर अयोध्या रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास प्रोजेक्ट की बताकर शेयर की गई. पहले भी यूक्रेन के एक प्रोजेक्ट की तस्वीर भाजपा समर्थकों ने वैष्णोदेवी फ़्लाईओवर की बताकर शेयर की थी.


रूसी आर्टिस्ट की कृष्ण और पांडवों की पेंटिंग को लोगों ने पंजशीर पैलेस में मौजूद पेंटिंग बताया :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: