महाराष्ट्र में तेंदुए के हमले की पुरानी तस्वीरें, गुजरात के पोलो जंगल की हाल की घटना के रूप में साझा

फेसबुक उपयोगकर्ता जीतेश जाडेजा ने कुछ तस्वीरों के साथ एक संदेश साझा किया, जिसमें गुजरात के पोलो के जंगल में तेंदुए के हमले द्वारा एक लड़के की मृत्यु को दिखाया गया है। तस्वीरों में से एक में आधे खाये हुए शव को देखा जा सकता है। तस्वीर के साथ साझा किये गए गुजराती संदेश है –“પોળના જંગલમાં ફરતા દિપડા એ અેક છોકરા ને ફાડી ખાધો” यह दावा व्हाट्सअप पर भी प्रसारित है।

महाराष्ट्र का पुराना वीडियो

गूगल पर रिवर्स इमेज सर्च करने से, हमें 2018 का एक ट्वीट मिला, जिसमें कहा गया था कि यह तस्वीर आरे में हुई घटना का बताकर प्रसारित है मगर यह घटना वास्तव में चिपलुन, महारास्ट्र में हुई थी।

गूगल पर सबंधित कीवर्ड्स से सर्च करने पर हमने पाया कि यह घटना महाराष्ट्र के चिप्लूर शहर में खड़पोली MIDC के पास हुई थी जिसमें तेंदुए के हमले में कम से कम दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए थे। यह आठ महीने पुरानी घटना है। हमें 11 दिसंबर, 2018 को मराठी मीडिया संगठन सकाल की एक रिपोर्ट मिली, जिसमें दो तस्वीरें प्रकाशित की गई हैं जो फिलहाल वायरल है। यह तेंदुआ जंगली सूअर के लिए बने जाल में फंस गया था। लोगों ने तेंदुए को पिंजरे में फंसा देखकर वन अधिकारियों को बुलाया था लेकिन जब अधिकारियों ने तेंदुए के ऊपर बड़ा पिंजरा लगाने की कोशिश की तो वह वहां से भागने में सफल रहा और वहां पर भगदड़ मच गयी।

एक मराठी न्यूज़ चैनल जय महाराष्ट्रं न्यूज़ ने इस घटना के पुरे वीडियो को अपलोड किया था, जिसका शीर्षक है –“चिप्लूर में तेंदुए का हमला”अनुवाद।

निष्कर्ष में हमने पाया कि महाराष्ट्र में हुए तेंदुए के हमला का वीडियो हाल में सोशल मीडिया में इस दावे से प्रसारित है कि यह घटना गुजरात के पोलो जंगल में हुई है।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend