भाजपा सदस्य सुरेन्द्र पूनिया ने एक तस्वीर शेयर की जिसमें प्रदर्शनकारी ‘Refugees Welcome’ लिखा हुआ पोस्टर थामे खड़े हैं. उन्होंने मास्क भी लगाये हुए हैं. सुरेन्द्र पूनिया ने कहा कि बीच में खड़े शख्स फ़्रांस के टीचर सेमुएल पैटी हैं जिनकी 16 अक्टूबर को 18 वर्षीय अब्दुलाख अन्ज़ोरोव (Abdoulakh Anzorov) ने गला काट कर हत्या कर दी थी. अब्दुलाख मॉस्को में पैदा हुआ था और बचपन में ही फ़्रांस में शरणार्थी के तौर पर आया था.

सुरेन्द्र पूनिया ने प्रवासी-विरोधी भावनाओं को बढ़ाने वाले अपने ट्वीट में लिखा कि फ़्रांस का वो टीचर प्रवासियों का स्वागत कर रहा था लेकिन उन्हीं प्रवासियों ने उसका सर काट दिया. इसके साथ ही उन्होंने भारत में बसने वाले रोहिंग्या पर निशाना साधा. इस आर्टिकल के लिखे जाने तक इस ट्वीट को 4,200 से ज़्यादा बार रीट्वीट और 10,000 से ज़्यादा बार लाइक किया जा चुका है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

कई लोगों ने ये दावा सच मानते हुए इसे फे़सबुक पर भी शेयर किया.

ये तस्वीर 4chan boards पर भी इसी दावे के साथ शेयर की जा रही है.

ग़लत दावा

नीचे बताया गया है कि सुरेन्द्र पूनिया का ये दावा कि इस तस्वीर में बीच में खड़ा शख्स सेमुएल पैटी हैं, ग़लत क्यों है:

1. इस तस्वीर में खड़े हर शख्स ने मास्क लगाया हुआ है, यानी ये ‘कुछ साल पहले’ या कोविड महामारी से पहले की नहीं है.

2. ये समूह ‘फ्रांस’ में शरणार्थियों का स्वागत नहीं कर रहा क्यूंकि तस्वीर यूके के केंट में खिचीं गयी है. पीछे एक पुलिस वैन खड़ी है जिसपर ‘Kent Police’ लिखा हुआ है.

3. इस पोस्टर के कोने में ‘Good Chance’ का लोगो है. ये यूके का एक समुदाय है जो थिएटर और कला के ज़रिये कलाकारों को आगे बढ़ाता है. ये मुख्य तौर पर उन इलाकों में काम करते हैं जहां शरणार्थी ज़्यादा होते हैं ताकि उनके लिए अवसर बनाने में मदद कर सकें.

4. ये तस्वीर गुड चांस ने 17 अक्टूबर को अपलोड की थी, सेमुएल पैटी की हत्या के एक दिन बाद. इस ट्वीट के अनुसार ये तस्वीर केंट के फ़ोकस्टोन की है.

KentLive के मुताबिक, “फ़ोकस्टोन में आज (17 अक्टूबर) सैकड़ों लोग शरणार्थियों का स्वागत करने के लिए सड़कों पर खड़े हैं. ज़रूरतमंद बेघरों को फ़िलहाल यूके में आने के बाद नेपियर बैरेक्स में शरण दी जा रही है. समर्थक सुबह 11 बजे ही पोस्टर, म्यूजिक, और डांस के साथ जमा हो गए थे और कैंप में रहने वाले लोगों को भी बुलाया.”

सुरेन्द्र पूनिया ने एक हफ़्ते पुरानी तस्वीर पोस्ट करते हुए कुछ साल पहले का बताया और कहा इसमें बीच में खड़ा शख्स सेमुएल पैटी है. फ़्रांस के टीचर सेमुएल पैटी की हाल ही में मॅास्को में जन्मे एक टीनेजर ने हत्या कर दी थी क्योंकि पैटी ने अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता पढ़ाते वक्त क्लास को चार्ली हेब्दो से सम्बंधित पैगम्बर मोहम्मद का कार्टून दिखाया था.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Pooja Chaudhuri is a senior editor at Alt News.