कथित तौर पर कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत के एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल है. ट्वीट में सोनिया गांधी की एक पुरानी तस्वीर के साथ लिखा है: “क्यों मैडम? इटली के सारे डांस बार बैंड हो गए थे क्या?” कई सोशल मीडिया यूज़र्स, कांग्रेस प्रवक्ता को टैग करते हुए ये स्क्रीनशॉट शेयर कर रहे हैं. ये स्क्रीनशॉट ट्वीट करने वाले राईटविंग ट्रोल अकाउंट ‘@AmitLeliSlayer’ के ट्वीट को 3,30,000 से ज़्यादा बार देखा गया और साथ ही इसे 7 हज़ार से ज़्यादा बार रिट्वीट किया गया. (आर्काइव)

वेरिफ़ाईड अकाउंट ‘@MYogiDevnath’ ने भी ये स्क्रीनशॉट ट्वीट किया जिसे करीब 1,40,000 बार देखा और 3 हज़ार से ज़्यादा बार रीट्वीट किया गया. (आर्काइव)

कई यूज़र्स ने भी ये वायरल स्क्रीनशॉट ट्वीट किया है. (आर्काइव्स – लिंक 1, लिंक 2, लिंक 3, लिंक 4)

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

सबसे पहले, कथित ट्वीट में देखे गए टेक्स्ट के साथ हमने ट्विटर पर एडवांस सर्च किया लेकिन हमें कोई रिज़ल्ट नहीं मिला.

इसके अलावा, ये ध्यान देने वाली बात है कि सभी वायरल स्क्रीनशॉट पर लाइक्स, रीट्वीट और कोट-ट्वीट की संख्या एक ही है. अगर सुप्रिया श्रीनेत ने सच में तस्वीर ट्वीट की होती, तो संभावना है कि ज़्यादा लोगों ने स्क्रीनशॉट लिए होते. और इन स्क्रीनशॉट्स पर लाइक्स आदि की संख्या भी अलग-अलग होती.

सुप्रिया श्रीनेत एक पत्रकार के रूप में अपने पिछले करियर से आगे बढ़ते हुए 2019 में सक्रिय राजनीति में शामिल हो गई थीं. हमने वायरल ट्वीट के समय के उनके ट्वीट्स की जांच की और पाया कि ये उनकी पत्रकारिता बैकग्राउंड को दिखाते हैं, साथ ही ऑथोरिटी से सवाल करते समय भी औपचारिक भाषा का ध्यान रखा जाता. इसके आलावा, उन्होंने 2012 में मुख्य रूप से अंग्रेजी में ट्वीट किया था. अगर सुप्रिया श्रीनेत (जो उस वक्त ET नाउ की मुख्य संपादक थीं) ने सच में वायरल स्क्रीनशॉट में दिखाए गए कंटेंट को ट्वीट किया होता, तो ये बात बेशक सुर्खियों में आती. हालांकि, हमें ऐसी कोई न्यूज़ रिपोर्ट नहीं मिली.

वायरल स्क्रीनशॉट को करीब से देखने पर हमने देखा कि सोनिया गांधी की तस्वीर और उसके बाद लिखे टेक्स्ट के बीच एक खाली जगह थी. ये एक विसंगति है और आमतौर पर ट्वीट्स में नहीं देखी जाती है. आगे, हमने मोबाइल डिवाइस पर लिए गए सुप्रिया श्रीनेत के लाइव ट्वीट्स में से एक के स्क्रीनशॉट और वायरल स्क्रीनशॉट की तुलना की है. उस जगह को सफेद रंग में आउटलाइन किया गया है.

ऑल्ट न्यूज़ ने सुप्रिया श्रीनेत से संपर्क किया. उन्होंने इस दावे का खंडन करते हुए कहा, ”मैं कांग्रेस परिवार से आती हूं. मेरे पिता 2009 से 2014 तक कांग्रेस सांसद थे और मैं हमेशा से सोनिया गांधी जी की प्रबल प्रशंसक रही हूं. मेरे अकाउंट से कभी भी ऐसा कोई ट्वीट शेयर नहीं किया गया. यहां तक ​​कि 2012 में भी नहीं, जैसा कि फर्ज़ी स्क्रीनशॉट में दिखाया गया है. एक तरफ वो मुझे ‘कांग्रेस पत्रकार’ कहते हैं और दूसरी तरफ वो इस तरह के स्टंट करते हैं. मैं उन लोगों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करूंगी जिन्होंने इस फर्ज़ी और फ़ोटोशॉप्ड ट्वीट को शेयर किया है.”

मार्च 2024 में अभिनेत्री से नेता बनीं कंगना रनौत के बारे में सुप्रिया श्रीनेत की एक कथित टिप्पणी के बाद कुछ राईटविंग यूज़र्स द्वारा भी ये तस्वीर शेयर की गई थी जिससे राजनीतिक विवाद खड़ा हो गया था. बीजेपी ने सुप्रिया श्रीनेत को पार्टी के सोशल और डिजिटल मीडिया प्रमुख पद से हटाने की मांग की. हालांकि, सुप्रिया श्रीनेत ने अपनी संलिप्तता से इनकार करते हुए दावा किया कि ये किसी ऐसे व्यक्ति द्वारा पोस्ट किया गया था जिसके पास उनके एकाउंट्स तक पहुंच थी.

कुल मिलाकर, सुप्रिया श्रीनेत द्वारा आपत्तिजनक भाषा में सोनिया गांधी पर हमला करने वाले कथित ट्वीट का स्क्रीनशॉट असली नहीं है. सुप्रिया श्रीनेत ने ऐसा कोई ट्वीट शेयर नहीं किया.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged:
About the Author

Student of Economics at Presidency University. Interested in misinformation.