सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल है. तस्वीर में एक मीनार दिख रही है जिसके नीचे आग लगी है और धुआं निकल रहा है. मज़ाक बनाते हुए एक ध्वस्त होती मीनार की तस्वीर के साथ कहा जा रहा है कि तालिबानियों की मदद से पाकिस्तान से अंतरिक्ष में मस्जिद लॉन्च की गई. ऐसा मीनार के नीचे लगी आग और धुएं को ध्यान में रखते हुए लिखा गया. ये तस्वीर एक कॉमन मेसेज के साथ शेयर की जा रही है – “पाकिस्तान में तालिबानियों की मदद से पहली मस्जिद अंतरिक्ष में लांच की गई…!!! बधाइयां रुकनी नहीं चाहिए!!!” ट्विटर यूज़र जानवी सिंह ने ये तस्वीर इसी मेसेज के साथ ट्वीट की. (आर्काइव लिंक)

फ़ेसबुक यूज़र अशोक तिवारी ने ये तस्वीर ‘योगी है तो यकीन है!’ ग्रुप में पोस्ट की.

 

फ़ेसबुक और ट्विटर पर ये तस्वीर वायरल है.

फ़ैक्ट-चेक

आसान से रिवर्स इमेज सर्च से ऑल्ट न्यूज़ को 6 जुलाई 2014 की इराक न्यूज़ की रिपोर्ट मिली. रिपोर्ट में इराक़ के मोसुल शहर में आतंकी संगठन ISIS के हमले की ख़बर दी है. आर्टिकल में वायरल तस्वीर के साथ-साथ हमले के बाद की तस्वीरें भी शेयर की गई हैं.

This slideshow requires JavaScript.

14 जुलाई 2014 के इंडिपेंडेंट के आर्टिकल में ये तस्वीर अल क़ुबा हुसैनिया मस्जिद की बताकर शेयर की गई थी. कैप्शन के मुताबिक, मोसुल की इस मस्जिद को विस्फोटक से उड़ा दिया गया था. इस तस्वीर का श्रेय आर्टिकल में असोसिएटेड प्रेस (AP) को दिया गया है. डेली मेल के आर्टिकल में मस्जिद गिराने का वीडियो भी शेयर किया गया था.

कुल मिलाकर, अल क़ुबा हुसैनिया मस्जिद की पुरानी तस्वीर पाकिस्तान में तालिबानियों द्वारा मस्जिद ध्वस्त किये जाने के दावे से शेयर की गई.


टीन के डिब्बे और बांसुरी वाले बच्चों का ये बैंड इंडिया नहीं, पाकिस्तान का है :

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: