आज तक ने 21 अप्रैल को एक ख़बर देते हुए ट्वीट किया, “1550 बेड को लखनऊ जिला प्रशासन ने कोविड के लिए किया आरक्षित. पूरी खबर यहाँ पढ़ें.” साथ ही हैशटैग दिया, “#UttarPradesh #CoronavirusIndia #Lucknow.” इसके साथ ही चैनल ने हॉल में लगे बेड्स की एक तस्वीर पोस्ट की. (आर्काइव)

हालांकि ट्वीट में दी गयी ख़बर के लिंक पर क्लिक करने पर वो तस्वीर नहीं दिखती है.

इस तस्वीर को यूपी के लम्भुआ के भाजपा विधायक देवमणि द्विवेदी ने भी लखनऊ का बताते हुए लिखा, “लखनऊ में 1500 बेड और तैयार किए गये, हारेगा ,, देश जीतेगा….” उन्होंने बाद में ये ट्वीट हटा लिया. ट्वीट का आर्काइव यहां देख सकते हैं.

कुछ फ़ेसबुक यूज़र्स भी इसे लखनऊ का बताने में शामिल थे.

लखनऊ में 1500 बेड और तैयार किए गये,
कोरोना हारेगा ,, देश जीतेगा।
जय योगी जी

Posted by Eqra Anwer on Wednesday, April 21, 2021

UP नहीं दिल्ली के स्कूल की तस्वीर

कई लोगों ने आज तक के ट्वीट पर कमेंट किया कि ये तस्वीर दिल्ली में लगे बेड्स की है और साथ ही दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया का ट्वीट शेयर किया. AAP के चीफ़ मीडिया संयोजक विकास योगी ने भी आज तक के ट्वीट को कोट ट्वीट कर कहा कि ये तस्वीर दिल्ली के राउज़ एवेन्यू की है.

मनीष सिसोदिया ने 18 अप्रैल, 2020 को एक ट्वीट में बताया था कि दिल्ली के राउज़ एवेन्यू में स्थित सरकारी स्कूल को 125 बेड्स वाले कोविड-19 अस्पताल में बदला गया है. उन्होंने मौके की चार तस्वीरें शेयर कीं जिनमें वैसी ही तस्वीर है जिसे आज तक ने लखनऊ का बताकर शेयर किया है.

नीचे मनीष सिसोदिया द्वारा शेयर की गयी तस्वीर और आज तक के ट्वीट वाली तस्वीर देखी जा सकती है. ये दोनों तस्वीरें एक ही जगह की हैं लेकिन अलग-अलग कोने से ली गयी हैं. इनमें कई समानताएं नीचे देख सकते हैं:

  • दोनों तस्वीरों में दीवार और छत एक जैसे हैं.
  • दीवार पर दोनों में एक जैसे डिज़ाइन हैं.
  • दोनों हॉल के फ़र्श और बेड और उनपर रखे तकिये भी एक जैसे दिख रहे हैं.

आज तक की तस्वीर में पीछे एक पोस्टर भी नज़र आ रहा. ये पोस्टर ‘डॉक्टर्स फ़ॉर यू’ NGO का है जिसकी मदद से ये कोविड-19 हॉस्पिटल चलाया जाने वाला है. मनीष सिसोदिया के ट्वीट में सीएम अरविन्द केजरीवाल के पीछे ये बोर्ड देख सकते हैं.

NDTV ने इस जगह की वीडियो रिपोर्टिंग की है जहां पाठक इस जगह को देख सकते हैं. इस वीडियो को आम आदमी पार्टी के यूट्यूब हैंडल ने शेयर किया है.

यानी, आज तक ने दिल्ली के सरकारी स्कूल को कोविड-19 अस्पताल में बदले जाने वाली तस्वीर को लखनऊ की ख़बर में लगा दिया.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

A journalist and a dilettante person who always strives to learn new skills and meeting new people. Either sketching or working.