[चेतावनी: इस आर्टिकल में लगी तस्वीर विचलित कर सकती है. पाठक अपने विवेक का इस्तेमाल करें.]

पश्चिम बंगाल के कूच बिहार के सीतलकुची में 10 अप्रैल को मतदान हुआ. चौथे चरण के मतदान के दौरान हिंसा की स्थिति बन गयी और CISF जवानों ने फ़ायरिंग का सहारा लिया जिसमें 4 लोगों की मौत हो गयी. एक तरफ़ कूच बिहार के एसपी ने इसे आत्मरक्षा बताया, वहीं मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने इस हिंसा का आरोप गृह मंत्रालय पर लगाया.

इस घटना के बाद शुभेंदु अधिकारी समेत कई भाजपा नेताओं ने एक घायल CISF जवान की तस्वीर शेयर की और तस्वीर का सम्बन्ध बंगाल चुनाव में हुई घटना से बताया.

भाजपा सांसद सौमित्र खान ने भी ये तस्वीर शेयर करते हुए दावा किया कि ये सीतलकुची हिंसा में घायल हुए जवान की तस्वीर है. भाजपा सांसद अर्जुन सिंह ने भी अपनी ट्विटर और फ़ेसबुक प्रोफ़ाइल से ये तस्वीर शेयर की. दोनों ही नेताओं ने बाद में अपने पोस्ट्स हटा लिए. गौरतलब है कि ये तस्वीर शेयर करने वाले नेताओं में किसी ने भी 4 नागरिकों के मारे जाने की बात नहीं की.

भाजपा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष संतोष रंजन राय ने भी ये तस्वीर ट्वीट की.

फ़ैक्ट-चेक

बस एक रिवर्स इमेज सर्च इस तस्वीर की सच्चाई सामने रख देता है. ऑल्ट न्यूज़ को दैनिक जागरण का 10 अप्रैल, 2021 का एक आर्टिकल मिला जिसमें तस्वीर में दिख रहे जवान की पहचान ASI एसपी शर्मा के तौर पर की गयी है. इस आर्टिकल के मुताबिक, शुक्रवार को झारखण्ड के बाघमारा में भीमकनारी स्थित CISF कैंप में ड्यूटी के समय ASI शर्मा पर लंगूरों ने हमला कर दिया था. उनपर चार लंगूरों ने हमला कर उनके गाल को बुरी तरह ज़ख़्मी कर दिया. उन्हें फ़ौरन नज़दीकी हॉस्पिटल ले जाया गया था.

इस घटना पर मंडे मॉर्निंग न्यूज़पेपर ने भी रिपोर्ट किया है.

धनबाद के CISF मुख्यालय ने भी बूमलाइव से बात करते हुए साफ़ किया कि ये तस्वीर बाघमारा की है जब लंगूरों ने एसपी शर्मा पर हमला कर दिया था.

कई भाजपा नेताओं ने एक घायल CISF जवान की तस्वीर शेयर करते हुए उसे पश्चिम बंगाल चुनाव के दौरान हुई हिंसा से जोड़ा. असल में, झारखण्ड के बाघमारा में एक CISF कैंप में लंगूरों ने ASI एसपी शर्मा पर हमला कर दिया था.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.