ANI ने 10 अप्रैल को एक वीडियो ट्वीट किया था जिसमें हुगली के स्थानीय लोग भाजपा नेता लॉकेट चटर्जी की कार के पास जमा होकर हुड़दंग मचा रहे हैं. ये घटना पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के मतदान के दौरान हुई. वीडियो में पुलिस द्वारा भीड़ काबू किए जाने के दौरान भाजपा नेता की कार का शीशा अचानक से टूटता दिख रहा है.

अखिल भारतीय तृणमूल कांग्रेस (AITC) ने दावा किया कि खिड़की बाहर से नहीं बल्कि कार के अंदर से तोड़ी गई. TMC के सोशल मीडिया हैंडल पर वीडियो शेयर करते हुए बांग्ला कैप्शन में लिखा गया, “साफ़-साफ़ देखा जा सकता है कि तृणमूल कांग्रेस पर गुंडागर्दी का आरोप लगाने के लिए खुद @me_locket अपनी कार का शीशा तोड़ रही हैं.

ये वीडियो कई लोगों ने शेयर किया लेकिन रवि नायर के पोस्ट को 1.97 लाख से ज़्यादा बार देखा गया. रवि ने लिखा, “भाजपा नेता लॉकेट चटर्जी की कार का शीशा अंदर से किसने तोड़ा.”

एक अन्य यूज़र शशांत शेखर के पोस्ट को भी 10,000 से ज़्यादा बार देखा जा चुका है.

पत्थर फेंकने पर टूटा शीशा

ये वीडियो सबसे पहले पत्रकार पायल मेहता ने ट्वीट किया था, जिसे खुद लॉकेट चटर्जी ने शेयर करते हुए दिखाया था कि कैसे लोगों ने गुंडागर्दी मचाते हुए उनकी कार आगे बढ़ने से रोकने की कोशिश की. इसके बाद ये वीडियो कई लोगों ने शेयर करते हुए कहा कि कार का शीशा अंदर से तोड़ा गया है.

ये वीडियो स्लो मोशन में देखने पर पता चलता है कि भीड़ में से किसी ने पत्थर फेंका था जो कार के शीशे पर लगा.

इससे पहले बूमलाइव ने भी अपने फ़ैक्ट-चेक में पाया था कि कार का शीशा पत्थर लगने से टूटा है.

तृणमूल कांग्रेस और कई सोशल मीडिया यूज़र्स ने दावा किया कि भाजपा नेता लॉकेट चटर्जी की कार का शीशा अंदर से तोड़ा गया था. लेकिन वीडियो को स्लो मोशन में देखने पर पता चला कि शीशे पर पत्थर आकर लगा है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Fact-checker, Interning with Alt News