सोशल मीडिया पर शादी के जोड़े में एक लड़की की तस्वीर वायरल हो रही है जिसमें दावा किया जा रहा है कि बिहार के नवादा ज़िले में एक 8 साल की लड़की का विवाह 28 साल के लड़के के साथ कर दिया गया. स्वघोषित सामाजिक कार्यकर्ता व भाजपा समर्थक अशोक पंडित ने वायरल हो रही तस्वीर ट्वीट की. (आर्काइव लिंक)

संचिका पाण्डेय ने तस्वीर ट्वीट करते हुए लिखा “रिपोर्ट्स के मुताबिक लड़की 8 वर्ष की है और लड़का 28 वर्ष का है. 8 साल की लड़की के माता-पिता ने कथित तौर पर गरीबी के कारण ऐसा किया था. लेकिन 28 साल के माता-पिता की मंशा या मजबूरी क्या है? कई मायनों में दुर्भाग्यपूर्ण, हर तरह से अपराध भी!” (आर्काइव लिंक)

ज़ी हिंदुस्तान के पत्रकार तुषार श्रीवास्तव ने भी ये तस्वीर शेयर की. (आर्काइव लिंक)

महाराष्ट्र से राज्यसभा सांसद व शिवसेना की नेता प्रियंका चतुर्वेदी ने तुषार श्रीवास्तव के ट्वीट को रीट्वीट करते हुए लिखा “क्या नितीश कुमार उचित कारवाई करेंगे ? रेखा शर्मा और मीसा भारती से मामले में हस्तक्षेप करने का अनुरोध करती हूं ताकि लड़की की मदद की जा सके. यह हृदयविदारक है.” (आर्काइव लिंक)

नवभारत टाइम्स के पत्रकार नरेंद्र नाथ मिश्रा ने भी इस तस्वीर को ट्वीट किया और लिखा कि बिहार के नवादा में गरीबी के कारण हुआ बाल-विवाह समाज के काले सच को सामने लाता है. (आर्काइव लिंक)

राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के अध्यक्ष प्रियंक कानूनगो ने मामले को संज्ञान में लेते हुए एक नोटिस जारी कर दिया. (आर्काइव लिंक)

खबरी भैया नाम के एक न्यूज पोर्टल ने भी वायरल हो रही तस्वीर पर आर्टिकल लिखा कि महज 8 वर्ष की बच्ची की शादी एक 28 साल के लड़के के साथ करवाई गयी और सूत्रों के हवाले से दावा किया- “इस बच्ची की शादी एक ऐसे परिवार के साथ की जा रही है कि वो परिवार वाले इस बच्ची को सही से रख पाने की भी स्थिति में नहीं हैं।” (आर्काइव लिंक)

ट्विटरफेसबुक पर यह तस्वीर काफी वायरल रही

फैक्ट चेक

इस मामले जे जुड़ी जानकारी इकट्ठा करने के लिए हमने नवादा की एसपी धूरत सायली सावलाराम से बात की तो उन्होंने हमें बताया कि ये मामला जमुई का है. उन्होंने बताया कि जमुई पुलिस इसकी छानबीन में जुटी है और आगे की जानकारी वहीं से मिलेगी.

नवादा के डीएम यशपाल मीणा ने वीडियो के ज़रिए मामले से जुड़ी जानकारी दी. उन्होंने बताया कि उन्होंने जांच के लिए वारिसलीगंज की मंजौर पंचायत में एक उच्चस्तरीय टीम भेजी गयी जहां ग्रामीणों ने बताया कि लड़की का ननिहाल जमुई जिले के सिकंदरा थानाक्षेत्र में पड़ता है और लड़की अपनी नानी के घर पर ही रहती है और वहीं पली-बढ़ी है. इस मामले में जमुई पुलिस प्रसाशन को सूचना भी दे दी गयी थी.

इसके बाद ऑल्ट न्यूज़ ने जमुई के एसपी प्रमोद कुमार मंडल से इस मुद्दे पर बात की तो उन्होंने बताया कि लड़की की शादी अशोक धाम में हुई है और लड़की की उम्र 19 वर्ष है. इस जानकारी को वेरिफ़ाई करने के लिए जब हमने उनसे संबंधित दस्तावेज मांगा तो उन्होंने हमें वायरल हो रही तस्वीर में दिखने वाली लड़की के आधार कार्ड की फ़ोटो भेजी. इसमें लड़की के जन्म का वर्ष 2002 लिखा दिख रहा है.

कशिश न्यूज के संपादक संतोष सिंह ने लड़की व उसके पति का वीडियो शेयर किया जिसमें लड़की ने दोनों परिवारों की सहमति से शादी होने की बात कही. साथ ही अपनी जन्म तिथि 01-01-2002 बताई.

नवादा प्रसाशन ने वायरल तस्वीर के साथ फैल रही जानकारी को खंडित करते हुए प्रेस विज्ञप्ति जारी की व आधार कार्ड में मौजूद जन्मतिथि को वेरिफ़ाई कर लड़की को बालिग बताया.

द मूकनायक की संस्थापक मीना कोतवाल ने भी तनु व उसके पति शशिकांत से संपर्क किया और मामले को साफ़ किया.

इस फैक्ट चेक में हमने पाया कि सोशल मीडिया पर फैल रही जानकारी फर्जी है, लड़की की उम्र 8 वर्ष नहीं बल्कि 19 वर्ष है यानी लड़की बालिग है और कानूनी तौर पर शादी के योग्य है. यहां किसी भी प्रकार के बाल विवाह का मामला नहीं है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Abhishek has completed his bachelor's degree in Journalism and Mass Communication, currently working as a content writer in Careers 360, interested in fact checking.