पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिपण्णी के बाद से भाजपा प्रवक्ता नूपुर शर्मा लापता है. मुंबई पुलिस व कोलकाता पुलिस, उनकी तालाश कर रही है. फिलहाल नुपुर शर्मा ने हाजिर होने के लिए कोलकाता पुलिस से चार सप्ताह की मोहलत मांगी है. इन सभी खबरों के बीच एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है. इसे शेयर करते हुए दावा किया जा रहा है कि नुपुर शर्मा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. और ये वीडियो नूपुर शर्मा की गिरफ़्तारी का बताते हुए शेयर किया जा रहा है.

ट्विटर यूज़र अब्दुल रहमान ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि नुपुर शर्मा को गिरफ्तार कर लिया गया है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

ट्विटर यूज़र अमज़द अली ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए ऐसा ही दावा किया. (आर्काइव लिंक)

फ़ेसबुक पेज ‘डिजिटल टीवी‘ ने भी ये वीडियो ऐसा ही दावे के साथ पोस्ट किया. आर्टिकल लिखे जाने तक इसे 4.5 लाख से ज़्यादा बार देखा जा चुका है.

कई लोगों ने ऑल्ट न्यूज़ के व्हाट्सएप्प नंबर +917600011160 पर इस वीडियो की सच्चाई जानने के लिए रीक्वेस्ट भेजी. ये वीडियो इसी दावे के साथ फ़ेसबुकट्विटर पर वायरल है.

This slideshow requires JavaScript.

फ़ैक्ट-चेक

वीडियो से जुड़ी जानकारी इकट्ठा करने के लिए ऑल्ट न्यूज़ ने ट्विटर पर की-वर्ड्स सर्च किया. हमें पंजाबी अखबार ‘रोज़ाना स्पोक्स्मैन’ के पत्रकार भगवंत सिंह रूपल का एक ट्वीट मिला. ट्वीट में उन्होंने लिखा था कि वीडियो में नुपुर शर्मा नहीं बल्कि भूमि बिरमी हैं. इसी के साथ उन्होंने भूमि बिरमी के फ़ेसबुक प्रोफ़ाइल पर मौजूद मूल वीडियो का लिंक भी ट्वीट किया था. ये वीडियो 15 जून को भूमि बिरमी ने पोस्ट किया गया था.

आगे, हमने भूमि बिरमी का फ़ेसबुक अकाउंट खंगाला. उन्होंने 15 जून को कुछ वीडियोज़ पोस्ट किये थे. इन वीडियोज़ में पुलिस से झड़प के दृश्य दिख रहे हैं.

भूमि बिरमी ने फ़ेसबुक परिचय (इंट्रो) में खुदको राजस्थान के चुरू ज़िले में भारतीय किसान संघ की महिला विंग की ज़िला अध्यक्ष बताया है. गूगल पर सर्च करने से हमें एबीपी न्यूज़ की 16 जून की रिपोर्ट मिली. इसके मुताबिक, राजस्थान के चुरू में अखिल भारतीय किसान सभा के नेतृत्व में किसान 20 सूत्री मांग को लेकर आंदोलन कर रहे थे. इस धरने को भूमि बिरमी ने भी संबोधित किया था. 15 जून को चुरू की तारानागर विधानसभा क्षेत्र के उपखंड कार्यालय पर किसानों ने जमकर विरोध प्रदर्शन किया था. इसके साथ ही उग्र प्रदर्शनकारियों ने पुलिस बैरिकेड तोड़कर अंदर घुसने का प्रयास किया था. एबीपी न्यूज़ के मुताबिक, आंदोलन में शामिल महिलाओं को महिला पुलिस ने बाल पकड़कर डंडों से पीटा था.

ऑल्ट न्यूज़ ने भूमि बिरमी से भी संपर्क किया. उन्होंने कंफ़र्म किया कि वीडियो में दिख रही महिला वो खुद हैं और ये 15 जून को राजस्थान के चुरू ज़िले के तारानागर में हुए प्रदर्शन के दौरान का वीडियो है.

‘फर्स्ट इंडिया न्यूज़’ के वीडियो में वायरल वीडियो का हिस्सा दिखता है. लेकिन इसे दूसरे एंगल से रिकार्ड किया गया था.

कुल मिलाकर, राजस्थान में हुए प्रदर्शन के दौरान किसान संगठन से जुड़ी भूमि बिरमी और पुलिस के बीच हुई झड़प का वीडियो नुपुर शर्मा की गिरफ़्तारी का बताकर शेयर किया गया.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.

Tagged:
About the Author

Abhishek is a journalist at Alt News.