भारत में कोविड-19 की दूसरी वेव भयंकर रूप ले चुकी है और हर रोज़ सैकड़ों लोग अपनी जान गंवा रहे हैं. कई मरीज़ ICU बेड्स और ऑक्सीजन की किल्लत के बीच दम तोड़ रहे हैं. वहीं सभी पार्टियां इन मौतों और ऑक्सीजन की कमी का ठीकरा एक-दूसरे के सिर फोड़ रही हैं.

कुछ पत्रकारों और भाजपा समर्थकों ने एक ही जैसे कई ट्वीट का स्क्रीनशॉट शेयर करते हुए AAP सरकार पर निशाना साधा. इस ट्वीट में कोविड-19 से अपने नाना को खोने की बात बताई जा रही है जिसे सबसे पहले दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट किया था. उन्होंने लिखा था कि वो अपने नाना को भर्ती करने के लिए नोएडा के शारदा हॉस्पिटल में आधे घंटे खड़ी रहीं लेकिन भर्ती नहीं होने के कारण उनका निधन हो गया. लेकिन जब इसी के जैसे और ट्वीट्स वायरल हुए तो लोगों को लगा कि स्वाति मालीवाल यूपी सरकार को बदनाम करने के लिए ऐसा कह रही हैं.

न्यूज़18 के मैनेजिंग एडिटर अमीश देवगन, सिर्फ़ न्यूज़ के संस्थापक सुरजीत दासगुप्ता, ABP न्यूज़ के एडिटर पंकज झा, पत्रकार मिन्हाज़ मर्चेंट और लेखक अभिनव अग्रवाल ने एक जैसे ट्वीट का ये स्क्रीनशॉट शेयर किया.

This slideshow requires JavaScript.

राजा राममोहन राय लाइब्रेरी फ़ाउंडेशन की अध्यक्ष कंचन गुप्ता, भाजपा सदस्य केया घोष और सुरेन्द्र पूनिया ने भी ये स्क्रीनशॉट शेयर किया. कंचन गुप्ता ने लिखा कि AAP सरकार यूपी प्रशासन को निशाना बनाने के लिए कॉपी-पेस्ट कैंपेन चला रही है. भाजपा समर्थक ऋषि बागरी और अंशुल सक्सेना ने भी कहा कि स्वाति मालीवाल ने नाना की मौत का झूठा दावा किया. इनमें से अधिकतर ट्वीट्स अब डिलीट किये जा चुके हैं.

This slideshow requires JavaScript.

पत्रकारों और भाजपा समर्थकों ने स्वाति मालीवाल के शोक का मज़ाक उड़ाया

स्वाति मालीवाल ने अपने नाना के निधन की ख़बर 22 अप्रैल को दी थी.

अगले दिन उन्होंने अंतिम संस्कार के बारे में लिखते हुए ये भी कहा कि वायरल फ़र्ज़ी ट्वीट के आधार पर लोगों ने उनके नाना का भी मज़ाक उड़ाया.

उत्तर प्रदेश सरकार को बदनाम करने की बात कहने वाले पत्रकारों और भाजपा समर्थकों ने चार ट्वीट्स के स्क्रीनशॉट शेयर किये थे. इनमें से पहला ट्वीट स्वाति मालीवाल का है और दो @AdolffHitlar और @RamsamVenkat नाम के राइट-विंग ट्रोल अकाउंट से किये गए थे. चौथा अकाउंट कांग्रेस समर्थक यूज़र @kaplnameena01 का है जिसने अपना ट्वीट डिलीट करने के बाद यूज़र नेम @kaplanameena कर लिया.

@AdolfHitlar ने स्वाति मालीवाल के ट्वीट को कॉपी-पेस्ट कर अपने पोस्ट को पिन भी कर लिया. हैंडल ने लिखा कि उसका ट्वीट मज़ाकिया है.

लेकिन इस हैंडल ने वो ट्वीट भी रीट्वीट किया हुआ है जिसमें स्वाति मालीवाल के ट्वीट को योगी सरकार को बदनाम करने ले लिए मनगढ़ंत कहानी बताया जा रहा है.

लेकिन इसका ये ‘मज़ाक’ किस हद तक गिरा हुआ था ये आप नीचे ट्वीट में देख सकते हैं.

यूज़र @RamsamVenkat ने अपना कॉपी-पेस्ट ट्वीट हटा लिया और @kaplanameena01 द्वारा किये गये ट्वीट का हुबहू पोस्ट शेयर किया जिसमें ‘टूलकिट’ साजिश की बात की जा रही है.

@RamsamVenkat के ट्वीट्स भी खुले तौर पर भाजपा का समर्थन करते आये हैं.

स्वाति मालीवाल ने अपने नाना के निधन की ख़बर ट्विटर पर दी और इसे ट्रोल अकाउंट ने कॉपी-पेस्ट कर उन्हें बदनाम करने की कोशिश की. स्वाति मालीवाल के हालात का मज़ाक बनाने वालों भी भाजपा समर्थक ही नहीं बल्कि पत्रकार भी शामिल थे जिन्होंने कहा कि ये ट्वीट योगी सरकार को बदनाम करने के लिए किया गया था.


अरविन्द केजरीवाल हुए किसान बिल के समर्थक? तेजिंदर बग्गा ने शेयर किया पुराना वीडियो

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Co-founder, Alt News
Co-Founder Alt News, I can be reached via Twitter at https://twitter.com/zoo_bear