फोटोशॉप तस्वीर से सोनिया गांधी का चरित्र हनन करने की कोशिश

यूपीए की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी की तस्वीर, जिसमें उन्हें किसी अन्य व्यक्ति की गोद में बैठे दिखलाया गया है, फेसबुक पर अपलोड की गई है। इसे एक पब्लिक ग्रुप, वी सपोर्ट नरेंद्र मोदी में पोस्ट किया गया है। इस ग्रुप में लगभग तीस लाख सदस्य हैं। पोस्ट को 800 से ज्यादा बार शेयर किया गया है।

एक पेज, आसाराम बापू और एक व्यक्तिगत यूजर द्वारा भी इस तस्वीर को पोस्ट किया गया है, जिसे 300 से अधिक बार शेयर किया गया है। तस्वीर के साथ पोस्ट किया गया संदेश एक ही है — लो बे चमचो सबूत…..😉कैसे बनी कैसे बनी……..!टमाटर बिना चटनी कैसे बनी।

फोटोशॉप तस्वीर

इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर 2018 में भी प्रसारित किया गया था। फेसबुक पेज योगी सरकार ने मई 2018 में इसे पोस्ट किया, जिसे 3500 से अधिक बार शेयर किया गया था। इसे ट्विटर पर भी शेयर किया गया था। मई 2018 में जब इसे व्यापक रूप से शेयर किया जा रहा था, ऑल्ट न्यूज़ हिंदी ने तस्वीर की तथ्य-जांच की थी। ऑल्ट न्यूज़ ने पाया था कि इस तस्वीर की उत्पत्ति 2005 की है, जब मालदीव के तत्कालीन राष्ट्रपति अब्दुल गयूम की भारत यात्रा के दौरान उनसे सोनिया गांधी की मुलाकात हुई थी।

श्रीमती गांधी को गयूम की गोद में बैठे हुए दिखलाने के लिए, तस्वीर को गलत तरीके से फ़ोटोशॉप किया गया। उपरोक्त तस्वीर में से सोनिया गांधी की तस्वीर को क्रॉप करके श्री गयूम के साथ रख दिया गया। नीचे पोस्ट किए गए वीडियो में उस प्रक्रिया के एक-एक चरण का चित्रण है जिससे संभवतः फोटोशॉप की हुई तस्वीर बनाई गई होगी।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend