ट्विटर ट्रेंड #RahulGandhiPagalHai के साथ राहुल गांधी के कई भ्रामक वीडियो वायरल

13 फरवरी की सुबह से, एक खास ट्विटर हैशटैग, तेजी से बढ़ते हुए इस माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट पर दिन के बड़े ट्रेंड्स में शामिल हो गया था। हैशटैग #RahulGandhiPagalHai के साथ एक जैसे ट्वीट कई यूजर्स द्वारा पोस्ट करने से यह टॉप ट्रेंड में बदल गया।

कांग्रेस अध्यक्ष को निशाना बनाने वाले सैकड़ों ट्वीट्स में दिए गए उनके वीडियो को संदर्भ से अलग और भ्रामक तरीके से रखा गया था।

पहला वीडियो — “मेरे जैसा कोई बेवकूफ नहीं”

“यह मैं नहीं कह रहा हूँ। इसे सीधे संबंधित व्यक्ति से सुनिए। #RahulGandhiPagalHai” -यह ट्वीट कृष्णा (@Athiest_Krishna) ने एक क्लिप के साथ किया, जिसमें गांधी को यह कहते सुना जा सकता है — “मेरे जैसा बेवक़ूफ़ इस देश में नहीं है”। इस वीडियो को 15,000 से ज्यादा बार देखा और 800 से ज्यादा बार रिट्वीट किया गया।

कई दूसरे ट्विटर यूजर्स ने भी यह वीडियो प्रसारित किया।

राहुल गांधी ने खुद को मूर्ख नहीं कहा। यह वीडियो सोशल मीडिया में पिछले वर्ष से चल रहा है और इंडिया टुडे  ने इसे खारिज भी किया था।

यह वायरल क्लिप, कांग्रेस अध्यक्ष द्वारा 11 जून, 2018 को तालकटोरा स्टेडियम में ओबीसी सम्मेलन में दिए गए एक लंबे भाषण से लिया गया केवल 4-सेकेंड का क्लिप है। इसमें गांधी खुद को मूर्ख नहीं कह रहे थे, बल्कि उन्होंने भाजपा के एक ओबीसी सांसद को उद्धृत करते हुए कहा था, जो उनके पास आए और कहा कि वह (उक्त सांसद खुद) मूर्ख थे जो पीएम मोदी का समर्थन किया।

उस सम्मेलन में राहुल गांधी ने जो कहा, — “लोक सभा में नरेंद्र मोदी जी के OBC MPs मेरे पास आये. सच बताऊँ, बाथरूम से निकल रहा था उन्होंने मुझे रोका। नाम नहीं बता सकता। नाम बता दिया तो मोदीजी आउट कर देंगे. मगर चार-पाँच आए और मैंने उनसे मज़ाक में पूछा, “भइया ये बताओ क्या हो रहा हैँ?” एक मेरा हाथ पकड़ता है, कहता है, “राहुलजी, मेरे जैसा बेवक़ूफ़ इस देश में नहीं है. मैं इनको लाया, मैंने नरेंद्र मोदीजी को प्रधानमंत्री बनाया और आज लोक सभा के संसद में नरेंद्र मोदीजी मुझे एक शब्द नहीं बोलने देते…”

दूसरा वीडियो –“मेरे पास कोई सबूत नहीं है, लेकिन पीएम रॉफेल घोटाले में शामिल हैं”

कुछ यूजर्स ने राहुल गांधी का एक दूसरा वीडियो ट्वीट किया है, जिसमें रॉफेल मसले पर वे लोकसभा में बोल रहे हैं और उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है, “मेरे पास अब तक कोई सबूत नहीं है, लेकिन मैं बहुत स्पष्ट हूँ कि प्रधानमंत्री सीधे शामिल हैं।” इससे यह धारणा बनती है कि गांधी, पीएम मोदी पर बिना किसी सबूत के भ्रष्टाचार का आरोप लगा रहे थे।

यह भी क्लिप किया हुआ वीडियो है। यह इसी साल लोकसभा में रॉफेल पर गांधी के भाषण का एक हिस्सा है, जिसमें उनका कथन रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण के लिया था। वह कहते हैं कि उनके पास अब तक उनके (सीतारमण के) शामिल होने का कोई सबूत नहीं है, लेकिन प्रधानमंत्री इस घोटाले में सीधे शामिल हैं।

नीचे दिए गए पूरे वीडियो में 4:26वें मिनट पर, कांग्रेस अध्यक्ष को यह कहते सुना जा सकता है – “रक्षा मंत्री ने कहा कि हम उन पर आरोप लगा रहे हैं… महोदया मैं आप पर आरोप नहीं लगा रहा हूं और मैं श्री पर्रिकर पर आरोप नहीं लगा रहा हूं। मैं श्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगा रहा हूं। यह बिल्कुल स्पष्ट होने दें कि आपने झूठ की रक्षा करने की कोशिश के अलावा कुछ नहीं किया है। इसलिए मुझे नहीं लगता कि आप राफेल घोटाले में शामिल हैं। मेरे पास अब तक यह कहने का कोई सबूत नहीं है कि आप इसमें शामिल हैं, लेकिन मैं बहुत स्पष्ट हूं कि प्रधानमंत्री सीधे राफेल घोटाले में शामिल हैं।”

निरंतर निशाना?

राहुल गांधी एक लोकप्रिय ऑनलाइन निशाना हैं। ऐसे अनेक उदाहरण बताते हैं कि कैसे कांग्रेस अध्यक्ष के क्लिप या छेड़छाड़ किए हुए वीडियो सोशल मीडिया में तुरंत रुझान का विषय (trending topic) बन जाते है।

“मैं पश्चिम से सूर्योदय करवाऊंगा”

गांधी का एक वीडियो, जो पिछले वर्ष नवंबर में व्यापक रूप से प्रसारित किया गया था, अभी भी सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। 6-सेकेंड के इस क्लिप में कांग्रेस अध्यक्ष को यह कहते सुना जा सकता है, “मुझे प्रधानमंत्री बना दो तो सूरज इस साइड से उगता है उसे उस साइड से उथा दूंगा।” नीचे दिया गया लिंक प्रसिद्ध नकली समाचार पेज द इंडिया आई के पोस्ट का है और इससे धारणा बनती है कि गांधी ने भीड़ से अपील की कि यदि उन्होंने प्रधानमंत्री बनने में उनकी मदद की तो वे पश्चिम से सूर्योदय करवाएंगे।

 

आइए देखते है नई पप्पुगीरी – अब ये सूरज को भी पश्चिम से निकाल सकते है ।

Posted by The India Eye on Friday, 9 November 2018

यह क्लिप, छत्तीसगढ़ के डोंगरगढ़ में 9 नवंबर, 2018 को एक आमसभा में राहुल गांधी द्वारा दिए गए भाषण से लिया गया था, जिसमें उनका कथन वास्तव में प्रधानमंत्री मोदी को आड़े हाथ लेने के लिए था। इसका पूरा वीडियो कांग्रेस ने अपलोड किया था, जिसमें 8:27वें मिनट पर वे कहते हैं, “मोदीजी जैसे कहते है ना भईया चाँद को मैं इधर से उधर कर दूंगा। मुझे प्रधानमंत्री बना दो तो सूरज इस साइड से उगता है उसे इस साइड से उठा दूंगा. ऐसी बातें मैं नहीं करूँगा…”

LIVE: Public Meeting at Dongargarh, Chhattisgarh

LIVE: Congress President Rahul Gandhi addresses a public gathering in Dongargarh, Chhattisgarh. #GadhboNavaChhattisgarh

Posted by Indian National Congress on Friday, 9 November 2018

यह भ्रामक सूचना इंडिया टुडे ने पहले भी ख़ारिज की थी।

“आलू से सोना बनाने का मशीन”

2017 में राहुल गांधी का एक वीडियो यह कहते हुए फैलाया गया था, “ऐसी मशीन लगाऊंगा इस साइड से आलू घुसेगा उस साइड से सोना निकलेगा …”। भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय उन लोगों में थे, जिन्होंने यह दावा किया था कि कांग्रेस अध्यक्ष ने यह बयान दिया।

यह भी, अपेक्षाकृत एक बड़े भाषण में से क्लिप किया हुआ वीडियो था। पाटन, गुजरात में 12 नवंबर,2017 को दिए अपने मूल भाषण में राहुल गांधी वास्तव में पीएम मोदी को आड़े हाथ ले रहे थे।

इसका पूर्ण वीडियो कांग्रेस अध्यक्ष के यूट्यूब चैनल पर अपलोड किया गया था, जिसमें 17:50वें मिनट पर उन्हें यह कहते हुए सुना जा सकता है, “कुछ महीने पहले यहाँ बाढ़ आयी , 500 करोड़ रुपये दूंगा, (पीएम मोदी ने) एक भी रूपया नहीं दिया. आलू के किसानो को कहा ऐसी मशीन लगाऊंगा इस साइड से आलू घुसेगा उस साइड से सोना निकलेगा…मेरे शब्द नहीं है नरेंद्र मोदीजी के शब्द है.”

 

इस क्लिप किए हुए वीडियो की सच्चाई कई मीडिया संगठनों ने बताई थी, जिनमें न्यूज़18, द क्विंट, एबीपी न्यूज़ और द इंडियन एक्सप्रेस शामिल हैं।

ये केवल कुछ उदाहरण हैं, जबकि, कांग्रेस अध्यक्ष को सोशल मीडिया पर निशाना बनाने के लिए हमेशा उनके वीडियो काट-छांट कर चलाए जाते हैं। पहले भी, यह दिखाते हुए कि राहुल गांधी ने कहा कि महात्मा गांधी की अहिंसा इस्लाम से प्रेरित थी, भ्रामक रूप से अधूरी जानकारी का इस्तेमाल किया गया था। एक दरगाह में उनकी प्रार्थना करते हुए वीडियो को इस संदेश के साथ चलाया गया कि वे भारत में मुस्लिम राज के लिए प्रार्थना कर रहे थे। कृषि ऋण माफी से उनके पलटने और उन्होंने कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री  सिद्धारमैया की सरकार को भ्रष्ट कहा, के झूठे दावे भी किए जा चुके हैं।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend