फॉटोशॉप तस्वीर, असम में ABVP द्वारा CAA, NRC के खिलाफ प्रदर्शन के झूठे दावे से शेयर

सोशल मीडिया में पिछले हफ्ते से एक तस्वीर प्रसारित है, जिसमें कुछ लोगों को एबीवीपी के झंडे और पोस्टर लेकर खड़े हुए देखा जा सकता है। तस्वीर में मौजूद बैनर में नरेंद्र मोदी और अमित शाह के चेहरे पर जूते के निशान दिखाई दे रहे है। बैनर के सन्देश के अनुसार, “हम NRC, CAB, CAA का समर्थन नहीं कर रहे है। मोदी गो बैक, टकला अमित गो बैक #ABVP Assam” (अनुवाद) इस तस्वीर को ट्वीट करने वालों में मुंबई के भायखला विधानसभा क्षेत्र से AIMIM के पूर्व विधायक वारिस पठान शामिल हैं। उन्होंने तस्वीर को साझा करते हुए लिखा है, “असम में एबीवीपी सदस्य NRC, CAB, और CAA के खिलाफ प्रदर्शन किया। देश बदल रहा है। 2020.” (अनुवाद)

यह तस्वीर फेसबूक पर वायरल है – सचिन गुप्ता, मोहम्मद सामी और कई लोगों ने इस तरह के समान पोस्ट साझा किए हैं।

फ़र्ज़ी तस्वीर

ऑल्ट न्यूज़ ने तस्वीर को रिवर्स सर्च किया और पाया कि यह तस्वीर एडिट की हुई है। मूल तस्वीर में, बैनर में लिखा है, “हम CAA (नागरिकता संशोधन कानून) का समर्थन कर रहे है। ABVP.” (अनुवाद)

ऑल्ट न्यूज़ को डीएनए के एक लेख में प्रकाशित की गई यह तस्वीर मिली, जिसके अनुसार इसे गुजरात के अहमदाबाद में 18 दिसंबर, 2019 को एबीवीपी द्वारा CAA के समर्थन में आयोजित एक रैली के दौरान लिया गया था।

हालांकि, डेक्कन हेराल्ड ने बताया कि इस तस्वीर को जेएनयू में खिंचा गया था।

यह दोहराया जा सकता है कि इस तस्वीर को फॉटोशॉप किया गया है जबकि मूल तस्वीर में बैनर में “हम CAA का समर्थन करते हैं” लिखा है।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend