सोशल मीडिया पर एक वीडियो काफ़ी शेयर हो रहा है जिसमें भीड़ सफ़ेद रंग के कपड़े पहने एक व्यक्ति की पिटाई कर रही है. दावा है कि भीड़ जिस व्यक्ति को मार रही है वो यूनियन मिनिस्टर डॉ. हर्षवर्धन हैं. ये वीडियो एक मेसेज के साथ वायरल है – “लो भैया काम शुरू हो गया. भीड़ अब बीजेपी एमपी हर्षवर्धन पर जमकर जूते बरसा रही है. (मूल मेसेज – ਲਓ ਭਰਾਵੋ ਕੰਮ ਚਲ ਪਿਆ ਜੁੱਤੀਆਂ ਦਾ BJP ਸੰਸਦ ਹਰਸ਼ਵਰਧਨ ਦੀ ਸੇਵਾ ਕਰਤੀ ਜ਼ਿਮੀਂਦਾਰਾ ਨੇਂ)”. एक फ़ेसबुक यूज़र ने ये वीडियो इसी पंजाबी मेसेज के साथ पोस्ट किया है. आर्टिकल लिखे जाने तक इस वीडियो को 1 लाख 34 हज़ार व्यूज़ मिले हैं. (पोस्ट का आर्काइव लिंक)

ਲਓ ਭਰਾਵੋ ਕੰਮ ਚਲ ਪਿਆ ਜੁੱਤੀਆਂ ਦਾ b j p ਸੰਸਦ ਹਰਸ਼ਵਰਧਨ ਦੀ ਸੇਵਾ ਕਰਨੀ ਜ਼ਿਮੀਂਦਾਰਾ ਨੇਂ

Posted by Harjit Nagra on Monday, 28 September 2020

एक और फ़ेसबुक यूज़र ने ये वीडियो इसी मेसेज के साथ पोस्ट किया. आर्टिकल लिखे जाने तक पोस्ट किए गए इस वीडियो को 7,300 से ज़्यादा बार देखा जा चुका है. (पोस्ट का आर्काइव वर्ज़न)

ਲਓ ਜੀ ਭਰਾਵੋ ਕਿਸਾਨਾਂ ਖਿਲਾਫ ਕਨੂੰਨ ਬਣਾਕੇ BJP ਦੇ ਮੰਤਰੀ ਜੁੱਤੀਆਂ ਖਾਣ ਲੱਗ ਪਏ। BJP ਦੇ ਸੰਸਦ ਮੈਂਬਰ ਹਰਸ਼ਵਰਧਨ ਕਿਸਾਨਾਂ ਕੋਲੋਂ ਮਾਣ ਸੰਮਾਨ ਲੈਂਦੇ ਹੋਏ।

Posted by Bagicha Singh Waraich 08872419720 on Monday, 28 September 2020

ये वीडियो पिछले कुछ दिनों से फ़ेसबुक पर वायरल है.

फ़ैक्ट-चेक

इस वीडियो की जांच ऑल्ट न्यूज़ ने जुलाई 2020 में ही की थी, जब ये बिहार में भाजपा नेता पर हमला होने के दावे से वायरल हुआ था. ये वीडियो असल में बाबुल सुप्रियो के काफ़िले पर हुए हमले का है जो अक्टूबर 2016 में हुआ था. ABP न्यूज़ ने 19 अक्टूबर 2016 की अपनी वीडियो रिपोर्ट में बताया था कि पश्चिम बंगाल के आसनसोल में बीजेपी नेता बाबुल सुप्रियो के काफ़िले पर टीएमसी के समर्थकों ने हमला किया था.

20 अक्टूबर 2016 की ‘पत्रिका’ की रिपोर्ट में बताया गया है कि कुछ दिनों पहले भाजपा समर्थकों ने गौ तस्करी का आरोप लगाते हुए कुछ कसाईयों को पीटा था. इसके बाद भाजपा समर्थक तृणमूल कांग्रेस नेता मलय घटक के घर के सामने प्रदर्शन करने वाले थे. लेकिन इससे पहले ही बाबुल सुप्रियो पर हमला हो गया. इस हमले में ज़िला भाजपा नेता सुब्रत मिश्रा भी घायल हुए थे. बाबुल सुप्रियो ने अपने ऊपर हुए हमले के बाद ट्वीट करते हुए तृणमूल कांग्रेस नेता मलय घटक पर हमला करवाने का आरोप लगाया था.

ANI ने एक ट्वीट में इस बात की जानकारी दी थी. इन तस्वीरों में वो व्यक्ति भी दिख रहे हैं जिनपर हमला हुआ था.

इस तरह, अक्टूबर 2016 में भाजपा नेता बाबुल सुप्रियो के काफ़िले पर हुए हमले का वीडियो वायरल हुआ. इसमें भाजपा नेता सुब्रत मिश्रा घायल हुए थे. इस वीडियो के बारे में कहा जा रहा है कि ये केन्द्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन पर हुए हमले का वीडियो है. ये दावा सरासर गलत है.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.