पश्चिम बंगाल की मिनाखन पुलिस ने 13 जनवरी को भाजपा नेताओं और कार्यकर्ताओं के घरों में तोड़-फोड़ और आगजनी करने के मामले में 4 लोगों को गिरफ्तार किया था. आनंद बाज़ार पत्रिका की रिपोर्ट के मुताबिक जलने वाले मकानों में धुतुर्दाहा गांव में भाजपा के अल्पसंख्यक नेता नूर इस्लाम गाज़ी का घर भी शामिल था. भाजपा ने इस हिंसा के पीछे तृणमूल कांग्रेस (TMC) के लोगों का हाथ होने का दावा किया.

भाजपा पश्चिम बंगला ने इस घटना के बारे में ट्वीट करते हुए एक इऩ्फोग्राफ़िक भी शेयर किया. इसमें पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की तस्वीर के साथ भयंकर आग की एक तस्वीर नज़र आ रही है.

इस इऩ्फोग्राफ़िक में लिखा है, “तृणमूल का हिंसक रवैया एक बार फिर सबके सामने है. तृणमूल के गुंडों ने भाजपा नेता नूर इस्लाम की दुकान और स्कूल में आग लगा दी. उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि भाजपा ने बशीरहाट में उनकी दबंगई का विरोध किया. पश्चिम बंगाल में और कितने लोग राजनीतिक हिंसा का शिकार होंगे? जवाब दो, ममता बनर्जी.”

भाजपा बंगाल ने फे़सबुक और ट्विटर, दोनों पर ये इऩ्फोग्राफ़िक शेयर किया.

कुछ स्थानीय भाजपा ट्विटर हैंडल्स के कैप्शन थे, “ममता बनर्जी और कितने लोगों का दमन करेंगी? और कितने लोग इस राजनीतिक हिंसा का शिकार होंगे?”

ये इऩ्फोग्राफ़िक फे़सबुक पर काफ़ी वायरल है.

इऩ्फोग्राफ़िक में कैलिफ़ोर्निया में लगी आग की तस्वीर

इस तस्वीर को क्रॉप करके रिवर्स इमेज करने पर हमें डेली मेल की मई 2014 की एक रिपोर्ट मिलती है. इस तस्वीर के बारे में बताया गया है-“कल कैलिफ़ोर्निया के कार्ल्सबैड में एक घर जंगल में लगी आग की लपटों में आ गया. ये आग अबतक 500 एकड़ क्षेत्रफल को चपेटे में ले चुकी है. रिकॉर्ड गर्मी, तेज़ हवा और शुष्क पर्यावरण के कारण ये बहुत तेज़ी से फैली.” तस्वीर पर गेटी इमेजेज़ का कॉपीराइट है. हमने तस्वीर को गेटी पर देखा जहां लिखा है, “कैलिफ़ोर्निया के सैन मार्कोस में 14 मई, 2014 को एक घर जंगल में लगी आग के चपेटे में आते हुए.”

भाजपा बंगाल और उनके अन्य स्थानीय ट्विटर हैंडल्स ने कैलिफ़ोर्निया में लगी आग की 7 साल पुरानी तस्वीर शेयर करते हुए TMC की आलोचना की. पश्चिम बंगाल में हाल ही में भाजपा कार्यकर्ताओं और सदस्यों पर हमला करने के लिए 4 लोगों को गिरफ़्तार किया गया है जिन्हें भाजपा ने TMC का बताया.


इमरान खान की मोदी सरकार के सन्दर्भ में कही गयी बातों को ग़लत दावों के साथ पेश किया गया

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
About the Author

Pooja Chaudhuri is a senior editor at Alt News.