मध्यप्रदेश कांग्रेस के ट्विटर हैंडल से एक वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा गया, “हम मुख्यमंत्री के साथ हुये इस बर्ताव की निंदा करते हैं।” वीडियो में शिवराज सिंह चौहान और पीएम मोदी साथ-साथ चलते हुए दिखते हैं. तभी अचानक से शिवराज सिंह को पीछे से कोई रोकता है और थोड़ी देर बाद वे फिर आगे बढ़ जाते हैं. कहा जा रहा है कि पीएम मोदी के स्टाफ़ ने शिवराज सिंह चौहान को उनके साथ चलने से रोका. (आर्काइव लिंक)

मध्यप्रदेश कांग्रेस के फ़ेसबुक पेज से भी ये वीडियो शेयर किया गया.

 

हम मुख्यमंत्री के साथ हुये इस बर्ताव की निंदा करते हैं।

Posted by Indian National Congress – Madhya Pradesh on Wednesday, 17 November 2021

इसके अलावा भी कुछ यूज़र्स ने ये वीडियो शेयर करते हुए यही दावा किया है.

फ़ैक्ट-चेक

NDTV के पत्रकार अनुराग द्वारी ने 16 नवम्बर को फ़ेसबुक पर ये बताया कि शिवराज सिंह को SGP/PMO के अधिकारी ने नहीं रोका था. ये भोपाल के कलेक्टर हैं जो शिवराज सिंह से कुछ कहने आये थे.

सुबह से सोशल मीडिया पर ये वीडियो वायरल है जिनको जानता था बता दिया कि ये SPG/PMO के अधिकारी नहीं @CollectorBhopal हैं जो @ChouhanShivraj से कुछ कहने आए थे,वाकई सोशल मीडिया पर खबरें यूं हीं दौड़ पड़ती हैं! लगता है किसी को तथ्योंं से मतलब नहीं है बस कुछ साबित करने की जल्दबाज़ी है!

Posted by Anurag Dwary on Tuesday, 16 November 2021

हमने देखा कि शिवराज सिंह चौहान ने भी 17 नवम्बर को कांग्रेस को झूठा बताते हुए ये वीडियो शेयर किया. वीडियो में सबटाइटल के ज़रिये ये बताया गया है कि भोपाल कलेक्टर विनाश लावनिया ने उन्हें रोक कर कुछ ज़रूरी बात कही थी. और उसके बाद वो वापस पीएम के साथ चलने लगे थे.

भोपाल कलेक्टर के ट्विटर हैंडल से भी दावे का खंडन किया गया है. ट्वीट में बताया गया है कि PM के सुरक्षा अधिकारी द्वारा CM को नहीं रोका गया था.

यानी, मध्यप्रदेश कांग्रेस ने ग़लत दावा किया कि PM मोदी के स्टाफ़ ने शिवराज सिंह चौहान को उनके साथ चलने से रोका. ऑल्ट न्यूज़ ने कई मौकों पर MP कांग्रेस को पहले भी ग़लत जानकारी शेयर करते पकड़ा है. ऐसे कुछ उदाहरण नीचे दिए गए हैं.

    1. MP कांग्रेस ने मॉक ड्रिल का वीडियो शिवराज सरकार का किसानों पर गोली चलवाने के दावे से दिखाया
    2. MP कांग्रेस ने शिवराज सिंह चौहान का एडिटेड वीडियो शेयर किया
    3. MP कांग्रेस ने बजरंगदल के 11 कार्यकर्ताओं की गिरफ़्तारी की पुरानी भ्रामक खबर शेयर की
    4. राजनाथ सिंह ने ‘चौकीदार चोर है’ के नारे नहीं लगवाए, MP कांग्रेस ने क्लिप्ड वीडियो शेयर किया
    5. महिला द्वारा भाजपा नेता की पिटाई के दावे के साथ MP कांग्रेस ने पुराना वीडियो शेयर किया
डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged:
About the Author

Priyanka Jha specialises in monitoring and researching mis/disinformation at Alt News. She also manages the Alt News Hindi portal.