सोशल मीडिया में एक वीडियो शेयर करते हुए यूज़र्स दावा कर रहे है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की गाड़ी पर पत्थर फेंके गए. ये वीडियो आने वाले बिहार विधानसभा चुनावों के मद्देनज़र शेयर की जा रही है. नीचे शामिल किये गए ट्वीट के वीडियो को आर्टिकल लिखे जाने तक 54 हज़ार बार देखा जा चुका है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

ये वीडियो फ़ेसबुक पर इसी दावे से वायरल है. ये वीडियो ज़्यादातर इस कैप्शन के साथ शेयर किया गया – “नीतिश कुमार जी आप इतना अच्छा काम करते ही क्यों हो की जनता के बीच से आप को भागना पड़ रहा है.”

फ़ैक्ट-चेक

बता दें कि जून 2020 में ये वीडियो बिहार विधानसभा चुनाव प्रचार के दौरान अमित शाह के काफ़िले पर हमला होने के दावे से शेयर किया गया था. इस दावे की सच्चाई बताती हमारी फ़ैक्ट-चेक रिपोर्ट आप यहां पढ़ सकते हैं. वीडियो के फ़्रेम्स को रिवर्स इमेज सर्च करने पर 13 जनवरी 2018 का ‘न्यूज़18’ का एक फ़ेसबुक पोस्ट पोस्ट मिला. चैनल ने ये वीडियो पोस्ट करते हुए बताया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बिहार के बक्सर जिले में एक गांव से गुज़र रहे थे तभी कुछ गांववालों ने उनकी गाड़ी पर पत्थरों से हमला कर दिया.

Bihar CM Nitish Kumar’s Convoy Attacked.

WATCH: While Bihar CM Nitish Kumar was on his way to a village in Buxar, some villagers started pelting stones on the CM’s convoy.

Posted by News18 on Saturday, 13 January 2018

आगे की-वर्ड्स सर्च से हमें इस घटना पर पब्लिश हुई कई मीडिया रिपोर्ट्स मिलीं. 12 जनवरी 2018 की ‘NDTV इंडिया’ की रिपोर्ट के मुताबिक, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बक्सर ज़िले में ‘विकास समीक्षा यात्रा’ के लिए पहुंचे थे. जहां नीतीश कुमार के काफ़िले पर गांववालों ने हमला कर दिया. उस वक़्त मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को तो वहां से निकाल लिया गया था लेकिन गाड़ियों में बैठे अन्य सुरक्षाकर्मी घायल हो गए थे. रिपोर्ट में बताया गया है कि ये हमला गांववालों ने इसलिए किया था क्योंकि वो चाहते थे कि मुख्यमंत्री दलित बस्ती का दौरा करें. इस मामले में सहमति न बन पाने के कारण नीतीश कुमार ने बस्ती का दौरा नहीं किया था जिसके बाद गुस्साये लोगों ने नीतीश कुमार के काफ़िले पर हमला कर दिया था. इसके अलावा, हाल में बिहार के सीएम नीतीश कुमार की गाड़ी पर हमला होने की कोई खबर नहीं है.

इस तरह, साल 2018 में बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के काफ़िले पर हुए हमले का वीडियो हाल के विधानसभा चुनावों के मद्देनज़र शेयर किया गया.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.