पश्चिम बंगाल हिंसा से जोड़कर एक वीडियो शेयर किया जा रहा है जिसमें तीन लोग एक लड़के को कुल्हाड़ी से मारते हुए दिख रहे हैं. ऑल्ट न्यूज़ इस आर्टिकल में उस वीडियो को शामिल नहीं कर रहा है या उसका लिंक भी नहीं लगा रहा है क्यूंकि वीडियो बेहद वीभत्स है.

हिन्दू जागरण मंच UP के अध्यक्ष चौधरी अमित सिंह ने ये वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा, “मेरे पति को घर से घसीट कर ले गए टीएमसी के लोग और बोले अब बोल जय श्री राम अब कहां है तेरे भाजपा वाले अब कहां है तेरे हिंदू अब कौन तुझे बचाएगा यह कह कर उन्होंने मेरे पति को गंगापुर राणाघाट पर मार दिया,उत्तम घोष की पत्नी(बंगाल) दैनिक भास्कर अखबार के इंटरव्यू का अंश! #BangalBurning”

इस मेसेज को BJP वर्कर उत्तम सिंह की पत्नी का हवाला देकर शेयर किया जा रहा है जिनकी मौत कथित रूप से बंगाल हिंसा में हुई है.

इस वीडियो को फ़ेसबुक पर भी इसी दावे के साथ कई लोगों ने शेयर किया है.

ऑल्ट न्यूज़ को व्हाट्सऐप नंबर पर इस वीडियो के पड़ताल की कई रिक्वेस्ट मिलीं.

This slideshow requires JavaScript.

शेयर हो रहे वीडियो में हिंदी में लिखा है, “मोदी तेरे राज में क़ानून का कोई काम नहीं है.”

फ़ैक्ट-चेक

ऑल्ट न्यूज़ ने वीडियो को कई फ़्रेम्स में तोड़ा और इनका यांडेक्स पर रिवर्स इमेज सर्च किया. हमें इस घटना के कई आर्टिकल्स मिले जिसमें दावा किया गया कि वीडियो में दिखाई गई घटना 30 दिसंबर 2018 को ब्राज़ील के फ़ोर्टालेज़ा के सेरा में प्राया डो फ़ुतुरो में हुई एक हत्या की है.

ज़्यादातर लेख स्थानीय ऑनलाइन पोर्टल पर प्रकाशित हुए थे जैसे जर्नल डी ब्राज़ीलिया, R7, Esqueria Diario और Monolitos Posts.

मोनोलितोस पोस्ट्स में प्रकाशित लेख में इस घटना का विस्तृत विवरण दिया गया है. इस आर्टिकल के मुताबिक, पीड़ित व्यक्ति का नाम वेस्ले टियागो डे सॉसा कारवाल्हो था और इसमें शामिल संदिग्धों की पहचान सिविल पुलिस ने की थी, जिनमें से 2 को गिरफ़्तार कर लिया गया. रिपोर्ट में बताया गया है कि लड़के को कुल्हाड़ी, कुदाल और पत्थरों से मारा गया था. इसके अलावा, जांच के अनुसार, वेसले टियागो को दो प्रतिद्वंद्वी गिरोहों के सदस्यों के बीच विवाद के कारण मारा गया था.

इस तरह ब्राज़ील का वीडियो भारत में पश्चिम बंगाल हिंसा से जोड़कर शेयर किया जा रहा है. ऑल्ट न्यूज़ इस वीडियो की पड़ताल 2019 में भी कर चुका है. जबसे पश्चिम बंगाल में परिणाम घोषित होने के बाद राज्य के कई हिस्सों में हिंसा हुई है तबसे पुराने वीडियोज़ और तस्वीरें हाल की हिंसा से जोड़कर शेयर किए गए हैं. हाल ही में बांग्लादेश में घायल हुई महिला की तस्वीर पश्चिम बंगाल हिंसा से जोड़कर शेयर की गयी थी.

डोनेट करें!
सत्ता को आईना दिखाने वाली पत्रकारिता का कॉरपोरेट और राजनीति, दोनों के नियंत्रण से मुक्त होना बुनियादी ज़रूरत है. और ये तभी संभव है जब जनता ऐसी पत्रकारिता का हर मोड़ पर साथ दे. फ़ेक न्यूज़ और ग़लत जानकारियों के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद करें. नीचे दिए गए बटन पर क्लिक कर ऑल्ट न्यूज़ को डोनेट करें.

Donate Now

बैंक ट्रांसफ़र / चेक / DD के माध्यम से डोनेट करने सम्बंधित जानकारी के लिए यहां क्लिक करें.
Tagged: