केरल के वायनाड से राहुल गांधी की जीत का जश्न बताकर 2017 की तस्वीर वायरल

“वायनाड में राहुल बाबा के जीतने के बाद जश्न की तश्वीर, फ़ोटो में तिरंगा ढूंढने वाले को उचित इनाम की व्यवस्था है..। “ इस संदेश से एक तस्वीर सोशल मीडिया पर 24 मई, 2019 से वायरल हो रहा है। दावा किया जा रहा है कि यह वायनाड में राहुल गांधी के जीतने के बाद का दृश्य है।

वायनाड में राहुल बाबा के जीतने के बाद जश्न की तश्वीर,
फ़ोटो में तिरंगा ढूंढने वाले को उचित इनाम की व्यवस्था है…

Posted by Bhargav Narayan Jaiswal on Friday, 24 May 2019

Begusarai Zee news पेज के अलावा तस्वीर को I AM WITH PM MODI AND YOU? ग्रुप में शेयर किया गया है। WE SUPPORT NARENDRA MODI ग्रुप में भी तस्वीर को कमल सोनी नाम के सदस्य ने इस संदेश के साथ शेयर किया है, “वायनाड में राहुल के जीतने के बाद #जश्न की तस्वीर सेकुलर हिन्दुओ आँख खोल कर देखो, कहीं ऐसा ना हो तुम सोते रहो और कांग्रेस तुम्हें नामाज़वादी बना दे। यदि हर जगह जीत जाती तो पूरे भारत में पाकिस्तान के झंडे दिखाई देते इतनी बेइज्जती के बाद भी बुद्दधि सुधरी नही तुम्हारी।”

WE SUPPORT NARENDRA MODI

इस ग्रुप में 29 लाख से भी ज़्यादा सदस्य हैं और पहले भी कई बार इस ग्रुप के सदस्यों को गलत जानकारी शेयर करते हुए पाया गया है। अभी दावा यह किया गया है कि इस तस्वीर में पाकिस्तानी झंडे दिख रहे हैं।

ट्विटर पर भी यह तस्वीर पिछले 24 घंटे से यानि राहुल गांधी के वायनाड के चुनाव जीतने के बाद से वायरल है।

पुरानी तस्वीर

तस्वीर की गूगल रिर्वस इमेज सर्च करने पर पता चलता है कि यह दो साल पुरानी तस्वीर है। पड़ताल में हमें द हिन्दू का 17 अप्रैल, 2017 को प्रकाशित एक लेख मिला, जिसमें वही तस्वीर थी।

the_hindu

खबर के मुताबिक तस्वीर में दिख रहे लोग IUML के कार्यकर्ता हैं, जो केरल के उपचुनाव में हुई जीत का जश्न मना रहे हैं। IUML केरल की एक राजनीतिक पार्टी है। दरअसल केरल की मल्लापुरम लोकसभा सीट के लिए हुए उपचुनाव में 12 अप्रैल, 2017 को वोट डाले गए थे, जिसमें इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग के नेता पी.के. कुन्हालीकुट्टी ने जीत दर्ज की थी।

दूसरा दावा यह किया गया था कि तस्वीर में दिख रहा हरे रंग का झंडा पाकिस्तानी ध्वज है, जबकि यदि गौर से देखा जाए तो पता चलता है कि यह इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग (IUML) का झंडा है। पाकिस्तानी झंडे मे चाँद और तारे की स्थिति बीच में होती है और बायीं तरफ एक सफ़ेद रंग की पट्टी होती है, जबकि IUML के झंडे में अर्धचंद्र और तारा सबसे ऊपरी कोने पर होते हैं। नीचे एक साथ रखी गई तस्वीरों में दोनों झंडों के बीच का अंतर स्पष्ट तौर पर देखा जा सकता है।

इस तरह एक दो साल पुरानी तस्वीर को राहुल गांधी के वायनाड से जीत के बाद का जश्न बताकर फैलाया गया।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend