हिंदुत्व पेज द्वारा अंतर-धार्मिक वैवाहिक जोड़े की सूची प्रकाशित कर हिंसा भड़काने का प्रयास

“यह एक सूची है उन हिन्दू लड़कियों के फेसबुक प्रोफाइल की जो लव जिहाद का शिकार हो चुकी है या हो रही है… हर हिन्दू शेर से आग्रह है, इनमे जो लड़के है, उनको खोज के शिकार करे।” एक ‘हिंदुत्व वार्ता‘ नामक फेसबुक पेज ने 102 जोड़ों की एक सूची पोस्ट की, जो मुस्लिम लड़कों की हिंदू लड़कियों के साथ रिश्ते की सूची थी और हिंदुओं को आगे आकर उन नामित मुस्लिम लड़कों पर हमला करने को कहा जा रहा था। वह पेज जिसकी प्रोफाइल पिक्चर में हाथ में बन्दूक देखा जा सकता है, उसने यह डेटाबेस साझा किया। इसके द्वारा साझा किये जाने वाले सामग्री को देख कर लगता है कि यह पेज सिर्फ हिंसा फ़ैलाने के लिए बनाया गया है। मीडिया के कुछ हिस्सों और सत्तारूढ़ हिन्दू राष्ट्रवादी पार्टी से ‘लव जिहाद’ को कुछ हद तक समर्थन मिला था यह उसी का नतीजा है। कुछ आम व्यक्तियों की सूची बनाकर उनके खिलाफ कट्टरपंथियों द्वारा हिंसा उकसाने का यह नियमित प्रयास बहुत खतरनाक है।

सोशल मीडिया पर आलोचना होने के कारण “हिंदुत्व वार्ता” पेज का यह आक्रामक पोस्ट अब हटा दिया गया है। ऑल्ट न्यूज़ ने जानकारी संग्रहित कर ली है लेकिन इसमें शामिल जोड़े की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए हमने इस सूची को यहाँ फिर से नहीं दिखाया है। ऑल्ट न्यूज़ की लेख के बाद इस पेज को या तो फेसबुक या इसके एडमिन द्वारा डिलीट कर दिया गया है।

पेज पर साझा किये गए सामग्री को देखने से हिंसक एजेंडे का पता चलता है। ऐसे ही एक उत्तेजक पोस्ट में, यह अभिभावकों से आग्रह करता है कि लव जिहाद से खुद को बचाने के लिए लड़कियों को बंदूक चलाना सीखने और इसका इस्तेमाल करने दिया जाए।

एक और विडियो में कुछ लोगों के एक समूह द्वारा एक व्यक्ति को मारते हुए दिखाया गया है। उसके साथ यह संदेश भी है कि “ये तो तय है अब… गाय के साथ कसाई भी कटेगा।”

“हिंदुत्व वार्ता” द्वारा साझा की गई इस सूची को नवंबर 2017 में “Justice for Hindus” नामक एक पेज ने भी साझा किया था। “हिंदुत्व वार्ता” के विपरीत उस पेज ने किसी हिंसा को बढ़ावा नहीं दिया था लेकिन हिन्दुओं से यह देखकर जागृत होने की गुजारिस की गयी थी। वह संदेश कुछ इस प्रकार था, “हिंदू लड़कियों को लव जिहाद (लव जिहाद, जिसे रोमियो जिहाद भी कहा जाता है) के माध्यम से इस्लाम धर्म में परिवर्तित कर रहे हैं, एक कथित गतिविधि है जिसके तहत युवा मुस्लिम लड़कों और पुरुषों द्वारा गैर मुस्लिम समुदायों की युवा लड़कियों को निशाना बनाया जाता है। प्रेम को ठुकराकर इस्लाम में रूपांतरण के लिए। हिंदुओं जागृत बनें, अन्यथा आप अपना देश भारत खो देंगे। यहां फेसबुक आईडी लिंक के साथ लव जिहाद की लंबी सूची है। (अनुवाद)” इस पेज ने इस सूची को बनाने का श्रेय Riddhiman Kunti नामक व्यक्ति को दिया। ऑल्ट न्यूज़ के लेख के बाद इस पेज को भी अब डिलीट किया जा चूका है।

“हिंदुत्व वार्ता” पेज नियमित रूप से भड़काऊ संदेश पोस्ट करता है जिनमें समुदायों का ध्रुवीकरण करने और हिंदू युवाओं को कट्टरपंथ बनाने का एक स्पष्ट उद्देश्य है। यह सामग्री मुस्लिमों के खिलाफ हिंदू वर्चस्व और हिंसा को खुले रूप से फैला रहा है। सोशल मीडिया पर कई हिंदुत्व पेज हैं जो उत्तेजक सामग्री पोस्ट करते रहते हैं लेकिन यह पेज एक कदम आगे चला गया। इस खतरे को हल्के ढंग से नहीं लिया जाना चाहिए। इससे पहले कि इसके पोस्ट में नामित 102 दंपतियों के खिलाफ धमकियों को आगे बढ़ाया जाए हमें उम्मीद है कि गृह मंत्रालय और स्थानीय पुलिस अधिकारी इसकी जांच करेंगे।

अनुवाद: Priyanka jha

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend