जलमग्न गली में बैठे लोगों की 4 साल पुरानी तस्वीर दिल्ली की बताकर केजरीवाल पर निशाना साधा गया

पानी से भरी हुई गली में चाय-नाश्ता कर रहे कुछ लोगों की एक तस्वीर सोशल मीडिया में दिल्ली की बताकर शेयर की जा रही है. तस्वीर में दिख रहा है कि एक गली में घुटनों तक पानी भरा हुआ है और वहीं पर कुछ लोग टेबल-कुर्सी डालकर चाय पी रहे हैं. दिल्ली भाजपा के जनरल सेक्रेटरी और उत्तरी दिल्ली के पूर्व मेयर रविंदर गुप्ता ने 26 जुलाई को ये तस्वीर ट्वीट की और लिखा, “#दिल्ली के मुख्यमंत्री @ArvindKejriwal जी का दिल से धन्यवाद जिन्होंने #किराड़ी विधानसभा को #लंदन बना दिया। यह देखिए किस प्रकार एक पूरा परिवार #लंदन की गली में बैठकर ” गरमा गरम चाय” और बिस्कुट का आनंद ले रहे है #केजरीवाल जी इससे अच्छे दिन मत दिखाना” रविंदर गुप्ता ने दावा किया है कि ये तस्वीर दिल्ली की है. उन्होंने तस्वीर शेयर करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर तंज़ भी कसा है. आर्टिकल लिखे जाने तक इस ट्वीट को 2,800 से ज़्यादा लाइक और 850 से ज़्यादा बार रीट्वीट किया जा चुका है. (ट्वीट का आर्काइव लिंक)

अकाली दल के राष्ट्रीय प्रवक्ता मनजिंदर सिरसा ने एक यूज़र द्वारा ट्वीट की गई इस तस्वीर को रीट्वीट करते हुए लिखा, “लंदन तो नहीं पर दिल्ली को वेनिस ज़रूर बना दिया है @ArvindKejriwal जी ने” हम आपको बता दें कि मनजिंदर सिरसा को पहले भी कई बार सोशल मीडिया पर झूठे दावे करते हुए पाया गया है.

25 जुलाई को एक फ़ेसबुक यूज़र ने ये तस्वीर गुजरात के सूरत शहर की बताकर शेयर की.

फ़ैक्ट-चेक

रिवर्स इमेज सर्च करने पर पत्रकार और ‘लाइवमिंट’ के कॉन्ट्रिब्यूटिंग एडिटर सलिल त्रिपाठी का 27 जुलाई का एक ट्वीट मिला. त्रिपाठी ने बताया कि ये तस्वीर सूरत की नहीं बल्कि पंजाब की है. त्रिपाठी ने पंजाब के बरनाला ज़िले से आप विधायक गुरमीत सिंह के ट्वीट को रीट्वीट किया है.

दरअसल 18 जुलाई 2016 को गुरमीत सिंह ने ये तस्वीर ट्वीट करते हुए बताया कि पंजाब के मानसा ज़िले में खराब सीवेज सिस्टम को लेकर इन लोगों ने प्रदर्शन किया था.

गुरप्रीत सिंह के ट्वीट पर एक यूज़र ने रिप्लाइ करते हुए ‘पंजाब केसरी’ अखबार की एक क्लिप शेयर की थी. इस न्यूज़पेपर क्लिप में पानी में बैठे इन लोगों की तस्वीर शेयर करते हुए लिखा गया है, “मानसा में बारिश उपरांत एक झील रूपी गली में बैठ कर चाय की चुस्कियां लेकर बारिश का आनंद उठाते लोग।” इस ई-पेपर क्लिप में 18 जुलाई की तारीख दिखाई दे रही है.

This slideshow requires JavaScript.

इसके अलावा, एक फ़ेसबुक यूज़र ने 17 जुलाई 2016 में मानसा, पंजाब की बताते हुए पानी में बैठे इन लोगों कुछ और तस्वीरें भी पोस्ट की थी.

2016 से दिल्ली की बताकर शेयर हो रही है ये तस्वीर

इस तस्वीर को 2016 से ही दिल्ली की बताकर शेयर किया जा रहा है. ‘@DaaruBaazMehta’ ने बिज़नेसमेन हर्ष गोयनका के एक ट्वीट का स्क्रीनशॉट 2016 में शेयर किया था. इस स्क्रीनशॉट में साफ़ दिख रहा है कि गोयनका ने पानी में बैठे लोगों की ये तस्वीर दिल्ली की बताते हुए शेयर की थी.

2016 की ये तस्वीर, हाल में सोशल मीडिया में दिल्ली के किराड़ी और गुजरात के सूरत शहर की बताकर शेयर की जा रही है. असल में ये तस्वीर पंजाब के मानसा ज़िले की है और कम से कम 4 साल पुरानी है. इस तस्वीर को हालिया बताने वाले सोशल मीडिया के सभी दावे ग़लत हैं.

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend