‘सौर ऊर्जा के उपयोग से सूरज ठंडा हो जाएगा’: प्रियंका चतुर्वेदी के नाम से फर्ज़ी बयान

प्रियंका चतुर्वेदी के नाम से एक उद्धरण का दावा है कि कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, “पेट्रोल डीजल महंगा होने की वजह से मोदी सरकार सोलर एनर्जी के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है। इससे थोड़े दिनों में सूरज ठंडा पड़ जाएगा और हर तरफ अँधेरा छा जाएगा|”

यह उद्धरण इन शब्दों से पूरा होता है — “ये कांग्रेसी जन्मजात ही पागल होते है या कांग्रेस ज्वाइन करने के बाद पागल होते हैं?”

फेसबुक ग्रुप में ‘मिशन 400+ (साथ है तो अभी जुड़े)’ के इस पोस्ट के 4,000 शेयर हुए हैं।

यह उद्धरण व्हाट्सएप पर भी प्रसारित है।

इसकी ग्राफिक, फेसबुक पेज ‘द फियरलेस इंडियन‘ द्वारा बनाई गई है। जिसे 700 से ज्यादा शेयर मिले हैं।

द फियरलेस इंडियन‘ पेज देवांग दवे चलाते हैं, जो खुद को भाजपा की युवा संगठन, भाजयुमो के आईटी व सोशल मीडिया के राष्ट्रीय संयोजक बतलाते हैं।

फ़र्ज़ी बयान

प्रियंका चतुर्वेदी के नाम से दिया गया उद्धरण मीडिया की किसी रिपोर्ट में नहीं है। ऑल्ट न्यूज़ ने कांग्रेस प्रवक्ता से संपर्क किया जिन्होंने बतलाया कि उद्धरण फर्जी है। उन्होंने कहा, “यह झूठी कहानी बनाने के लिए भाजपा के पेजों और भाजपा-समर्थक पेजों की हताशा को दर्शाता है”।- (अनुवाद)

चतुर्वेदी को सोशल मीडिया पर अक्सर इसी तरह निशाना बनाया गया है। इससे पहले, कश्मीर मुठभेड़ पर एक गलत व भड़काऊ उद्धरण उनके नाम किया गया था। एक नकली उद्धरण को लेकर कांग्रेस प्रवक्ता और उनकी बेटी को पिछले साल, सोशल मीडिया में धमकी भी दी गई थी।

अन्य कांग्रेसी नेता भी अपने नाम से गढ़े हुए बयानों के द्वारा खुद को निशाने पर पाते रहे हैं। अशोक गहलोत के एक क्लिप्ड वीडियो का इस्तेमाल यह दावा करने के लिए किया गया था कि राजस्थान के सीएम ने कहा कि बिजली पैदा करने से पानी से ऊर्जा निकल जाएगी। इससे पहले, राहुल गांधी (आलू की फैक्ट्री) के एक बयान के साथ भी ऐसा ही सलूक किया गया था, जिससे कांग्रेस अध्यक्ष का लगातार उपहास हुआ था।

योगदान करें!!
सत्ता को आइना दिखाने वाली पत्रकारिता जो कॉरपोरेट और राजनीति के नियंत्रण से मुक्त भी हो, वो तभी संभव है जब जनता भी हाथ बटाए. फेक न्यूज़ और गलत जानकारी के खिलाफ़ इस लड़ाई में हमारी मदद कीजिये. डोनेट करिये.

Donate Now

तत्काल दान करने के लिए, ऊपर "Donate Now" बटन पर क्लिक करें। बैंक ट्रांसफर / चेक / डीडी के माध्यम से दान के बारे में जानकारी के लिए, यहां क्लिक करें

Send this to a friend