Author - Dr. Sumaiya Shaikh

Dr. Sumaiya Shaikh is the Editor for Alt News Science and works as a Neuroscientist in Sweden. She holds a PhD in Medicine from Sydney, Australia. While her previous research was in pain physiology, she is currently studying the human brain during violent extremism. Also, she is writing a book on the science behind why ordinary people commit violent crimes. She advocates for evidence-based medical practice & critiques misinformation for public health.

आयुष मंत्रालय ने कहा कि Arsenicum album 30 से कोरोना वायरस ठीक हो जाएगा जबकि ये एकदम ग़लत है

कोरोना वायरस एक नई महामारी है जो चीन के वुहान से शुरू होकर थाइलैंड, फ़्रांस, फिलीपींस, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और भारत समेत दुनिया के 16 देशों तक फैल गई है. इसकी वजह से अब तक 27 हज़ार से ज़्यादा लोगों की मौत हो चुकी है और 6 लाख से अधिक लोग संक्रमित हुए हैं. विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने कोरोना वायरस को वैश्विक स्वास्थ्य आपातकाल घोषित कर दिया. दुनिया के लगभग सभी देश लॉकडाउन की स्थिति में हैं. भारत... Read More

कोरोना वायरस : सोशल डिस्टेंस ज़रूरी है लेकिन 14 घंटे का ‘जनता कर्फ्यू’ संक्रमण को रोक पायेगा?

इस वक़्त देश एक महामारी के दौर से गुज़र रहा है जिसमें संक्रमित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. 19 मार्च को पीएम मोदी ने अपने भाषण में कोरोना वायरस से बचने के उपाय सुझाए. उन्होंने लोगों से रविवार 22 मार्च को ‘जनता कर्फ्यू’ का पालन करने की अपील करते हुए सुबह 7 बजे से रात के 9 बजे तक अपने घर में रहने की सलाह दी. इसके बाद से सोशल मीडिया यूज़र्स एक मेसेज शेयर कर रहे हैं. जिसका दावा है कि... Read More

कोरोना वायरस : क्या इन्फ़ेक्शन रोकने में मास्क कारगार साबित होते हैं?

जब से नोवेल कोरोना वायरस (COVID-19) का संक्रमण शुरू हुआ है, तब से सोशल मीडिया पर मेडिकल एडवायज़रीज़ का जमकर प्रचार-प्रसार हो रहा है. ऑल्ट न्यूज़ ने हाल ही में एक वायरल संदेश की असलियत सामने लाई, जिसको फ़र्ज़ी तौर पर यूनिसेफ़ से जुड़ा हुआ बताया गया था. इस संदेश को बिज़नेसमैन और प्रियंका गांधी के पति रॉबर्ट वाड्रा ने भी शेयर किया था. इसमें कई तरह के दावे किए गए. इन दावों में से एक ये था कि कोरोना... Read More

फ़ैक्ट-चेक : कोरोना वायरस से जुड़ी फ़र्ज़ी बातें UNICEF के नाम से सोशल मीडिया पर वायरल

नोवेल कोरोना वायरस (कोविड-19) से संबंधित एक टेक्स्ट संदेश सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है. इसे यूनिसेफ़ की तरफ़ से ज़ारी संदेश बताने का दावा किया गया है. इसमें कोरोना वायरस संक्रमण (फ्लू की तरह के लक्षण वाला, ऊपरी श्वसन तंत्र से जुड़ा वायरल संक्रमण) से बचाव और नियंत्रण के उपाय बताए गए हैं. कोरोना वायरस संक्रमण को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने हाल ही में वैश्विक महामारी घोषित कर दिया... Read More

कोरोना वायरस (COVID-19) को ख़त्म करने के लिए कोई स्पेशल साबुन नहीं बल्कि आम साबुन काफ़ी है

दुनिया भर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के साथ-साथ सोशल मीडिया में इससे जुड़ी हुई सलाहें शेयर हो रही हैं. शेयर की गई ऐसी ही एक सलाह में साबुन के प्रयोग के बारे में बताया गया है. दावा कुछ लोग साबुन के असर और इसकी वायरस को ख़त्वाम करने की क्षमता पर सवाल उठा रहे हैं. उनका सवाल है कि क्या साबुन से कोरोना वायरस खत्म हो सकता है?जवाब हां फ़ैक्ट-चेक WHO ने हाल ही में कोरोना वायरस के चलते हाथ धोने के... Read More

ब्रॉयलर चिकन के बर्ड-फ़्लू और कोरोना वायरस के बीच कनेक्शन बनाने वाले झूठे वीडियोज़ हो रहे हैं वायरल

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच चीन के शाओयांग शहर में लगभग 18 हज़ार मुर्गे-मुर्गियों को मारा गया. भारतीय सोशल मीडिया यूज़र्स के बीच एक अफ़वाह फैलने लगी जिसके मुताबिक़ मुर्गे-मुर्गियों में कोरोना वायरस फैला हुआ है और इसलिए लोगों को चिकन खाने से परहेज़ करना चाहिए. ये अफ़वाह ज़्यादातर मराठी और हिंदी में फैलती हुई दिखाई दे रही है. क्या कहा जा रहा है? हिंदी और मराठी में वायरल होती हुई... Read More

क्या पपीता पत्तियों के रस से बनी दवा ‘कैरीपिल’ डेंगू वायरस संक्रमण का इलाज है?

इस साल डेंगू के मामलों में बढ़ोतरी के साथ ही, पपीता पत्तियों की तस्वीर के साथ 2012 का एक फेसबुक पोस्ट फिर से वायरल है। इसे पहले पोस्ट किए जाने से अबतक इसके 9,95,000 के करीब शेयर हो चुके हैं। यह फेसबुक पोस्ट, टाइम्स ऑफ इंडिया के एक लेख को सूचना का स्रोत बताते हुए सुझाव देता है कि पपीता पत्तियों के रस से डेंगू का चमत्कारिक इलाज हो सकता है। “यह डेंगू का चमत्कारिक इलाज हो सकता है। और सबसे अच्छी... Read More

IIT-Delhi के नए उद्यम Sanfe ने FDA से अनुमोदन एवं आयुष मंत्रालय सुरक्षा प्रमाण-पत्र मिलने के किये झूठे दावे

8 मार्च 2019 को, चार आईआईटी-दिल्ली उद्यमियों ने एक औषधीय उत्पाद ‘Sanfe Period Pain Relief Roll-On ’ लॉन्च किया, जिसमें मासिक-धर्म के दर्द से पीड़ित महिलाओं की मदद करने का दावा किया गया। उत्पाद लॉंन्च करने वाले समूह में दो टेक्सटाइल इंजीनियरिंग छात्र (अर्चित अग्रवाल और हैरी सहरावत), अर्थशास्त्र के एक प्रोफेसर (डॉ सीमा शर्मा) और आईआईटी-दिल्ली में डिजाइन विभाग में एक प्रोफेसर (प्रोफेसर श्रीनिवासन... Read More

क्या आयुष प्रमाणित BGR-34 और IME-9 दवाई डायबिटीज के लिए असरकारी है?

नवम्बर, 2014 में मोदी सरकार ने ‘आयुष’ नामक एक नए मंत्रालय कि शुरुआत की, जो आयुर्वेद विभाग, योग, यूनानी, सिद्ध और होम्योपैथी के लिए है। श्रीपद येसो नाइक को आयुष राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) के रूप में नियुक्त किया गया। यूपीए सरकार में आयुष स्वास्थ्य मंत्रालय के अन्दर ही निहित था जिसे चिकित्सा और होम्योपैथी (ISM&H) विभाग कहा जाता है। मंत्रालय की स्थिति में यह अपग्रेड भी वैकल्पिक... Read More

Send this to a friend